ट्रिपल तलाक बिल पर JDU- हम बिल नहीं उसे पास करने की जल्दबाजी के खिलाफ हैं

पवन वर्मा के मुताबिक मौजूदा स्वरूप में कानून लाया गया तो मुस्लिम महिलाओं को मदद नहीं मिलेगी.

News18 Bihar
Updated: July 25, 2019, 5:47 PM IST
ट्रिपल तलाक बिल पर JDU- हम बिल नहीं उसे पास करने की जल्दबाजी के खिलाफ हैं
जेडीयू महासचिव पवन वर्मा ने कहा है कि हम जल्दबाजी के विरोध में हैं.
News18 Bihar
Updated: July 25, 2019, 5:47 PM IST
तीन तलाक बिल को भारतीय जनता पार्टी भले ही जल्द से जल्द पास करना लेना चाहती हो लेकिन उसके सहयोगियों का रुख ऐसा नहीं है. बिहार में बीजेपी की सहयोगी जनता दल यूनाइटेड का मानना है कि इस बिल को जल्दबाजी में नहीं पास किया जाना चाहिए. जेडीयू महासचिव पवन वर्मा ने कहा है कि हम जल्दबाजी के विरोध में हैं. उनके मुताबिक संसद की प्रक्रिया में प्रावधान है कि किसी बिल को उसकी स्क्रूटनी यानी जांच के लिए सेलेक्ट कमेटी में भेजा जा सकता है, जहां विस्तार से चर्चा हो सकती है.

तीन तलाक कुप्रथा के खिलाफ
पवन वर्मा ने कहा कि हम ट्रिपल तलाक की प्रथा के खिलाफ हैं लेकिन इस पर कई प्रावधान हैं, जिस पर चर्चा की जरूरत है. मौजूदा कानून में तीन तलाक को क्रिमिनल एक्ट बनाया गया है, जिसमें तीन साल जेल का प्रावधान, फाइन और जमानत मिलने में भी शर्त है. इन चीजों पर आम राय बनाने की जरूरत है. हमारी राय इस मुद्दे पर सार्वजनिक है.

समय लेना जरूरी

पवन वर्मा के मुताबिक मौजूदा स्वरूप में कानून लाया गया तो मुस्लिम महिलाओं को मदद नहीं मिलेगी. पवन वर्मा के मुताबिक अगर किसी पति के खिलाफ तीन तलाक का मामला दर्ज कराया जाता है और वो जेल चला जाएगा तो पत्नी और बच्चों के मेंटेनेंस की जिम्मेदारी कौन लेगा? इसीलिए हम चाहते हैं कि इस व्यापक चर्चा होनी चाहिए. किसी वर्ग के बीच यह मैसेज नहीं जाना चाहिए कि सरकार उनके खिलाफ है.
ये भी पढ़ें:

समाज सिर्फ संविधान से नहीं, रीति-रिवाज और परंपरा से भी चलता है - ललन सिंह
Loading...

जब NCVT के चक्कर में फंस गए नीतीश के मंत्री, सदन में बिखर गई मुस्कान
First published: July 25, 2019, 5:12 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...