Home /News /bihar /

'हमने बड़ा दिल दिखाते हुए नीतीश कुमार को सीएम बनाया अब जेडीयू की बारी', यूपी चुनाव को लेकर बीजेपी की दो टूक

'हमने बड़ा दिल दिखाते हुए नीतीश कुमार को सीएम बनाया अब जेडीयू की बारी', यूपी चुनाव को लेकर बीजेपी की दो टूक

यूपी चुनाव को लेकर बीजेपी- जेडीयू में अबतक गठबंधन नहीं हो पाया है.

यूपी चुनाव को लेकर बीजेपी- जेडीयू में अबतक गठबंधन नहीं हो पाया है.

UP Assembly Election: बीजेपी नेता मिथिलेश तिवारी ने कहा कि बिहार विधानसभा चुनाव में जदयू को कम सीट आई और बीजेपी को अधिक सीट मिली. इसके बाद भी बीजेपी ने बड़ा दिल दिखाते हुए नीतीश कुमार को बिहार का मुख्यमंत्री बनाया. अब बड़ा दिल दिखाने की बारी जदयू का है. उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव में जदयू को भी अपना बड़ा दिल दिखाना चाहिए.

अधिक पढ़ें ...

पटना. उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव (UP Assembly Election) में जदयू को सहयोगी दल बीजेपी से अब भी समझौते की आस है. जदयू ने गठबंधन पर निर्णय को लेकर फिर से 3 दिनों का समय बीजेपी को दिया है. चुनाव भले ही यूपी में हो, लेकिन बिहार में इस मामले पर सियासत तेज है. पूर्व विधायक और बीजेपी के नेता मिथिलेश तिवारी ने इस मामले पर दो टूक कहा है. बीजेपी नेता ने कहा कि जेडीयू बड़ा दिल दिखाये.
मिथिलेश तिवारी ने कहा कि बिहार विधान सभा- 2020 के चुनाव में जदयू को कम सीट आई और बीजेपी को अधिक सीट मिली. इसके बाद भी बीजेपी ने बड़ा दिल दिखाते हुए नीतीश कुमार को बिहार का मुख्यमंत्री बनाया. अब बड़ा दिल दिखाने की बारी जदयू का है. उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव में जदयू को भी अपना बड़ा दिल दिखाना चाहिए और यूपी में एक बार फिर से योगी आदित्यनाथ को मुख्यमंत्री बनाने में सहयोग करना चाहिए.
यूपी चुनाव में जदयू से गठबंधन के सवाल पर सम्राट चौधरी ने कहा कि इस मामले में शीर्ष नेताओं में बातचीत चल रही है .कोई सहयोगी बनता है तो अच्छी बात है. लेकिन हम पिछली बार भी 325  सीट बिना जदयू के जीते थे. बीजेपी किसी जाति धर्म पर काम नहीं करती. आजादी के बाद नरेंद्र मोदी ने पूरे देश और दुनिया में सरदार पटेल को स्थापित किया. हम राम मंदिर भी बनाते हैं और ट्रिपल तलाक कानून भी लाते हैं.
वीआईपी पार्टी प्रमुख और बिहार सरकार के मंत्री मुकेश साहनी से राजद नेता के द्वारा रात के अंधेरे में मुलाकात पर बिहार में सियासत तेज है. इस मामले में मंत्री सम्राट चौधरी ने कहा कि राजद कन्फ्यूजन में है कि बिहार में क्या करना है. राजद के लोग मेहनत नहीं कर रहे हैं, जोड़- घटाव में लगे हुए हैं. जिन लोगों का नाम लिया जा रहा है वे लोग नीतीश कुमार को हराने में लगे हुए थे. बीजेपी नीतीश कुमार को जिताने में लगी थी. गठबंधन के लोगों का हम सम्मान करते हैं. बीजेपी मुकेश सहनी को सहयोगी के तौर पर रखे हुए है. मुकेश सहनी सहयोगी हैं, सहयोगी के तौर पर रहें. हमें कोई दिक्कत नहीं है. किसी को कहीं जाना है तो जाएं हमें कोई फर्क नहीं पड़ता.

वहीं, राजद प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी और मुकेश सहनी की मुलाकात पर बीजेपी नेता मिथिलेश तिवारी ने हमला करते हुए कहा है कि जिस मुकेश साहनी से रात के अंधेरे में राजद के नेता मिलने जा रहे हैं उसी को दिन के उजाले में बेइज्जत किया था. राजद की यह पुरानी आदत है दिन में ठोकर मारते हैं और रात में जाकर पैर पकड़ते हैं. मुकेश सहनी के चुनाव हारने के बाद भी बीजेपी ने अपनी सीट देकर मुकेश सहनी को विधान परिषद भेजा था. बीजेपी को मुकेश सहनी से हमेशा प्यार रहा है. लेकिन मुकेश सहनी उत्तर प्रदेश में जाकर बीजेपी के खिलाफ आग उगलते हैं.

Tags: Bihar politics, Bjp jdu, UP Assembly Election 2022

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर