Home /News /bihar /

तेजस्वी यादव का बंगला खाली करवाने की प्रक्रिया टली, जानिये क्या है पूरा विवाद

तेजस्वी यादव का बंगला खाली करवाने की प्रक्रिया टली, जानिये क्या है पूरा विवाद

नीतीश कुमार एवं तेजस्वी यादव (फाइल फोटो)

नीतीश कुमार एवं तेजस्वी यादव (फाइल फोटो)

तेजस्वी यादव पटना के 5 देशरत्न मार्ग पर स्थित उस बंगले में रहते हैं जो उपमुख्यमंत्री के लिए चिन्हित किया गया है. जब वे बिहार के डिप्टी सीएम थे तो उस हैसियत से उन्हें ये बंगला दिया गया था. लेकिन हाल में बिहार सरकार ने बंगला खाली करने को कह दिया है.

अधिक पढ़ें ...
    पटना के देशरत्न मार्ग स्थित 5 देशरत्न मार्ग पर बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम एवं नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव के सरकारी बंगले को खाली करवाने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई. हालांकि इसपर उठे विवाद के बीच फिलहाल इसको स्थगित कर दिया गया है. तेजस्वी के वकील की तरफ से जिला प्रशासन को उपलब्ध कराए गए LPA के आधार पर ये कार्रवाई टाली गई है. आपको बता दें कि भवन निर्माण विभाग के निर्देश पर पटना के डीएम ने बंगला खाली करवाने का आदेश दिया है.

    दरअसल बिहार सरकार के आवास विभाग ने जिला प्रशासन को इस मसले पर नोटिस जारी किया था. तेजस्वी यादव की अनुपस्थिति में की जा रही इस कार्रवाई को लेकर आरजेडी के कार्यकर्ता इस कार्रवाई का विरोध में उतर आए. दूसरी ओर तेजस्वी के बड़े भाई तेजप्रताप ने बिहार सरकार को चुनौती दी है कि वह बंगला खाली करवा कर दिखाए. जबकि तेजस्वी यादव ने ये कहते हुए इसका विरोध किया है कि अभी मामला पटना हाईकोर्ट में अभी विचाराधीन है. बहरहाल दोनों पक्षों के अपने तर्क हैं, लेकिन आइये हम जानते हैं कि आखिर ये पूरा मामला क्या है.

    दरअसल तेजस्वी यादव पटना के 5 देशरत्न मार्ग पर स्थित उस बंगले में रहते हैं जो उपमुख्यमंत्री के लिए चिन्हित किया गया है. जब वे बिहार के डिप्टी सीएम थे तो उस हैसियत से उन्हें ये बंगला दिया गया था. लेकिन हाल में बिहार सरकार ने बंगला खाली करने को कह दिया है.

    दूसरा तथ्य ये है कि फिलहाल प्रदेश के डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी हैं और वे एक पोलो रोड में आवंटित बंगले में रहते हैं. ये वो बंगला है जो नेता प्रतिपक्ष के लिए चिन्हित किया गया है. जाहिर है तेजस्वी यादव इस बंगले में रह सकते हैं. अब सवाल उठता है कि आखिर पेच है क्या.

    ये भी पढ़ें- तेजस्वी यादव को मिला तेजप्रताप का साथ, बोले- हिम्मत है तो बंगला खाली करा के दिखाए सरकार

    जब तेजस्वी यादव डिप्टी सीएम की हैसियत से थे तो उन्होंने अपने बंगले की साज सज्जा पर विशेष ध्यान दिया था. करोड़ों रुपये खर्च कर बंगले को रेनोवेट किया गया था. एक-एक सोफे की कीमत 50-50 हजार तक कही जाती है. इसी तरह अन्य कीमती सामान भी तेजस्वी ने अपनी पसंद से लगवाए हैं.

    आपको बता दें कि सेंट्रल पूल के आवास मंत्रियों के लिए होते हैं और उसे आवंटित करने के लिए भवन निर्माण विभाग अनुशंसा करती है. इनमें मंत्री और जज समेत वीवीआईपी शामिल होते हैं. बाकी विधायकों के लिए आवास का आवंटन विधानसभा अध्यक्ष या विधान परिषद के सभापति करते हैं.

    ये भी पढ़ें- दिल्ली में हैं तेजस्वी यादव और इधर पटना में सरकारी बंगला खाली कराने पहुंचे अधिकारी

    एक तथ्य ये है कि ये कार्रवाई पटना हाईकोर्ट के आदेश से हो रही है. हालांकि तेजस्वी यादव की ओर से कहा गया था कि वे हाई कोर्ट के इस आदेश को खंडपीठ में चुनौती देंगे. लेकिन मियाद पूरी होने के बाद भी वे कोर्ट ऑर्डर नहीं ला पाए.

    दूसरी ओर तेजस्वी के बड़े भाई तेज प्रताप ने अपने लिए नए मकान की मांग की है. गौरतलब है कि तेजप्रताप देशरत्न मार्ग के तीन नम्बर बंगला में रहते थे. इसके एवज में दारोगा राय पथ में दो फ्लैट उनके नाम से आवंटित किया गया है. लेकिन यह उन्हें पसंद नहीं है.

    इनपुट- अमित कुमार/बृजम पांडे

    ये भी पढ़ें- पटना पुलिस की बड़ी कार्रवाई: घटना के 24 घंटे बाद ही कांस्टेबल मुकेश के हत्यारे को धर दबोचा

    Tags: Bihar News, PATNA NEWS, Tejaswi yadav, Tejpratap yadav

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर