...जब पटना में 3 पेड़ों की जिंदगी बचाने सड़क पर उतर आया पूरा मोहल्ला
Patna News in Hindi

...जब पटना में 3 पेड़ों की जिंदगी बचाने सड़क पर उतर आया पूरा मोहल्ला
पेड़ों की रक्षा के लिए मोहल्ले वालों ने राखी भी बांधी

जब इन पेड़ों (Trees) को काटने के लिये वन विभाग (Forest Department) के कर्मचारी मौके पर पहुंचे, तो कॉलोनी के लोगों ने जमकर विरोध (Protest) किया. लोग तीनों पेड़ की जिंदगी बचाने के लिये सड़क पर उतर आए.

  • Share this:
पटना. पेड़ों (Tree) की सुरक्षा को लेकर आमलोग कितने जागरूक हो गए हैं, इसका उदाहरण पटना (Patna) के कंकड़बाग में देखने को मिला. कंकड़बाग के यशोदा देवी पथ इलाके में गलत तरीके से कब्जा किये गये सरकारी पार्क की एक जमीन को खरीदने वाले ने अपनी पैरवी और पहुंच की वजह से पार्क से सटे 3 हरे भरे पेड़ को काटने का आदेश वन विभाग (Forest Department) से जारी करवा लिया. जबकि पेड़ काफी हरे भरे हैं और इनसे कोई खतरा भी नहीं है.

जब इन पेड़ों को काटने के लिये वन विभाग के कर्मचारी मौके पर पहुंचे, तो कॉलोनी के लोगों ने जमकर विरोध किया. लोग तीनों पेड़ की जिंदगी बचाने के लिये सड़क पर उतर आए. हालांकि उससे पहले एक पेड़ की लगभग सभी टहनियों को काट डाला गया था. बाद में लोगों की नाराजगी को देखकर बाकी बचे दो पेड़ों को फिलहाल छोड़ दिया गया.

पेड़ों को बांधी राखी 



बाद में उस कटे पेड़ को स्थानीय लोगों ने राखी बांधी और वहां पर नया पौधा भी लगाया. साथ ही उसकी सुरक्षा का संकल्प भी लिया. कटे पेड़ की जान बचाने के लिये कॉलोनी वालों ने पेड़ों के जानकार से सलाह लेकर उसमें लेप भी लगवाये. और घेराबंदी भी की. स्थानीय लोगों का कहना है कि किसी भी कीमत पर अब बाकी बचे दो पेड़ों को कटने नहीं दिया जाएगा.
हैरानी की बात है कि एक तरफ सरकार पेड़ों को शिफ्ट कराने के लिये लाखों रुपये खर्च कर रही है, वहीं दूसरी तरफ अवैध तरीके से बने एस्बेस्टस के एक छोटे से शेड के लिये बिना जांच पड़ताल किये 3 पेड़ों को काटने का आदेश जारी कर दिया गया. लोगों की शिकायत के बाद वन विभाग ने दो सदस्यों की एक जांच कमिटी बना दी है. उधर स्थानीय लोगों ने इस मामले को लेकर अदालत में पीआईएल फाइल करने की तैयारी कर रहे हैं.

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज