Home /News /bihar /

कौन हैं आकाश यादव, जिनको लेकर तेजप्रताप-जगदानंद के बीच छिड़ी आर-पार की जंग

कौन हैं आकाश यादव, जिनको लेकर तेजप्रताप-जगदानंद के बीच छिड़ी आर-पार की जंग

आकाश यादव को छात्र राजद से बाहर का रास्ता दिखाए जने के बाद पार्टी में घमासान जारी

आकाश यादव को छात्र राजद से बाहर का रास्ता दिखाए जने के बाद पार्टी में घमासान जारी

Tej Pratap Yadav Vs Jagdanand singh: आकश यादव को लेकर आरजेडी के भीतर जगदानंद सिंह और तेजप्रताप के बीच आरपार की लड़ाई शुरू हो गई है. आरजेडी में मचे इस घमासान के पीछे सबसे बड़ी वजह छात्र राजद के अध्यक्ष रहे आकाश याद्व हैं. आकाश यादव को तेजप्रताप यादव के बेहद करीबी और दाहिना हाथ माना जाता है.

अधिक पढ़ें ...

पटना. राष्ट्रीय जनता दल में इन दिनों लालू के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव और आरजेडी के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह के बीच आर-पार की लड़ाई छिड़ गई है. तेज प्रताप के बयान से नाराजगी के कारण जगदानंद सिंह एक सप्ताह तक पार्टी कार्यालय नहीं पहुंचे थे. कई अटकलें लगाई जाने शुरू हुई थी लेकिन जैसे ही पार्टी कार्यालय पहुंचे पार्टी में एक बड़ा मोड़ सामने आया. जगदानंद सिंह ने छात्र राजद के प्रदेश अध्यक्ष आकाश यादव को तत्काल हटाकर नए छात्र नेता गगन कुमार को छात्र राजद के प्रदेश अध्यक्ष घोषित कर दिया. आकाश यादव को हटाने के साथ ही तेज प्रताप यादव आगबबूला हो गए और जगदानंद सिंह के खिलाफ खुलकर मोर्चा खोल दिया. यह लड़ाई तब और तेज हो गई जब जगदानंद सिंह ने तेज प्रताप यादव को लेकर पूछे गए सवाल पर कहा दिय कि हू इज तेज प्रताप.

तेजप्रताप भी कहां चुप बैठने रहने वाले थे. आनन-फानन में प्रेस कॉन्फ्रेंस बुलाई और जगदानंद सिंह पर सीधा वार करते हुए कहा कि वह तानाशाह की तरह काम करते हैं. पार्टी का संविधान भूल गए हैं. पार्टी के लिए खून बहाने से भी पीछे नहीं हटेंगे. ऐसे में सवाल उठता है कि आकाश यादव कौन हैं, जिसको लेकर तेज प्रताप ने बगावती रुख अपना लिया है.

आकाश यादव, तेजप्रताप यादव के बेहद करीबी और दाहिना हाथ माना जाता है. तेजप्रताप यादव को जब छात्र राजद की कमान मिली तो आकाश यादव को पिछले साल छात्र राजद के अध्यक्ष बनाया. जगदानंद सिंह जबसे प्रदेश अध्यक्ष बने तबसे छात्र राजद के अध्यक्ष पद पर किसी का चयन नहीं किया था. 8 अगस्त को छात्र राजद के पार्टी कार्यालय में हुए बड़ी बैठक में पार्टी कार्यालय के बाहर लगे बड़े-बड़े होर्डिंग्स में तेजस्वी की तस्वीर गायब थी. छात्र राजद की बैठक आकाश यादव के द्वारा बुलाई गई थी जिसमें तेजप्रताप यादव ने पहुंचकर जगदानन्द सिंह को हिटलर तक बताया था. शहरभर में पोस्टर लगाने के बाद तेजस्वी यादव नाराज बताये गए थे. बैठक के बाद अगली सुबह आनन-फानन में होर्डिंग को हटाया गया और तेजस्वी की तस्वीर वाला होर्डिंग लगाया गया जिसमें तेजप्रताप की तस्वीर गायब थी. जगदानंद सिंह और तेजस्वी की नाराजगी का नतीजा आकाश को छात्र राजद से बाहर का रास्ता देखना पड़ा

Tags: Bihar rjd, Jagdanand Singh, Tej Pratap Yadav, Tejashwi Yadav

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर