Assembly Banner 2021

बिहार पंचायत चुनाव में BJP अपना रही 'गुजरात फॉर्मूला', जिला परिषद प्रत्याशी को समर्थन के पीछे बड़ी राजनीति

Bihar Panchayat Election: बीजेपी ने कार्यकारिणी बैठक में पंचायत चुनाव में जिला परिषद उम्मीदवार को समर्थन देने का फैसला किया है.

Bihar Panchayat Election: बीजेपी ने कार्यकारिणी बैठक में पंचायत चुनाव में जिला परिषद उम्मीदवार को समर्थन देने का फैसला किया है.

Panchayat Election and Politics: भारतीय जनता पार्टी की प्रदेश कार्यसमिति की बैठक में संजय जायसवाल ने आगामी पंचायत चुनाव में जिला परिषद उम्मीदवार को समर्थन देने का ऐलान किया है. गुजरात की तर्ज पर बिहार में भी ताकत दिखाने के मूड में बीजेपी.

  • Share this:
पटना. बिहार बीजेपी प्रदेश कार्यसमिति की दो दिवसीय बैठक आज समाप्त हो गई. बीजेपी की इस बैठक में यूं तो संगठन स्तर पर रणनीति बनाना ही मूल मुद्दा था, लेकिन बैठक के पहले ही दिन पार्टी की ओर से एक महत्वपूर्ण घोषणा की गई. कहा गया कि आने वाले पंचायत चुनावों में बीजेपी जिला परिषद के चुनाव में योग्य उम्मीदवार को अपना समर्थन देगी. बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल के इस ऐलान का बिहार की राजनीति, खासकर ग्रामीण स्तर पर होने वाले पंचायत चुनावों की सियासत पर गहरा असर पड़ने की संभावना जताई जा रही है.

बिहार में अप्रैल और मई में पंचायत चुनाव होने हैं. इससे पहले बीजेपी की तरफ से किया गया यह ऐलान महत्वपूर्ण है. सियासी जानकार इसे बीजेपी के 'गुजरात फॉर्मूला' बता रहे हैं. गौरतलब है कि गुजरात में बंपर जीत के बाद बिहार बीजेपी पंचायत चुनाव में भी अपनी ताकत दिखाना चाहती है. हालांकि बिहार में दलीय आधार पर पंचायत चुनाव नहीं होते हैं, लेकिन यह मानकर चला जा रहा है कि बीजेपी के कार्यकर्ता पंचायत चुनाव में किसी भी पद पर लड़ते हैं, तो पूरी पार्टी उसके समर्थन में खड़ी रहेगी.

बीजेपी की प्रदेश कार्यसमिति की बैठक में पंचायत चुनाव 2021 को लेकर भी रणनीति तैयार की गई है. बैठक के उद्घाटन कार्यक्रम के अपने भाषण में प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल ने जिला परिषद चुनाव में योग्य उम्मीदवार को समर्थन देने की बात कही. ये पहला मौका है जब बीजेपी ने खुले तौर पर पंचायत निर्वाचन के जिला परिषद चुनाव में उम्मीदवार को समर्थन देने का ऐलान किया है.

कार्यसमिति में हुए कई और निर्णय


अध्यक्षीय भाषण में बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि 6 अप्रैल को पार्टी का स्थापना दिवस धूमधाम से मनाया जाएगा. उन्होंने कहा कि प्रदेश में बूथस्तर पर पार्टी का स्थापना दिवस 4 से 6 अप्रैल तक मनाया जाएगा. इस मौके पर प्रत्येक बूथ पर बीजेपी का झंडोत्तोलन किया जाएगा और अटल बिहारी वाजपेयी के सहयोगी रहे कार्यकर्ताओं को सम्मानित भी किया जाएगा.



इसके अलावा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि 14 अप्रैल को अंबेडकर जयंती के मौके पर भी बूथ स्तर पर कार्यक्रम होंगे. इसके एक दिन पहले यानी 13 अप्रैल को अंबेडकर समाज के जो सम्मानित व्यक्ति हैं और विभिन्न पदों पर आसीन हैं, उन्हें  भी पार्टी सम्मानित करेगी. प्रदेश अध्यक्ष ने यह भी बताया कि एनडीए सरकार ने 19 लाख युवाओं को रोजगार देने का जो वादा किया है, उसके लिए कृषि और लघु एवं कुटीर उद्योग को और ज्यादा मजबूत किया जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज