Bihar Election 2020: टिकट की रेस से बाहर हुईं तेजप्रताप यादव की पत्नी ऐश्वर्या और साली करिश्मा

साली करिश्मा के साथ तेजप्रताप यादव (फाइल फोटो)
साली करिश्मा के साथ तेजप्रताप यादव (फाइल फोटो)

Bihar Election 2020: तेजप्रताप यादव ने भी मंगलवार को नामांकन दाखिल किया. तेजप्रताप यादव ने इस बार के चुनाव में अपनी सीट बदल ली है. पहले जहां वह वैशाली जिले के महुआ सीट से विधायक व करते थे तो वहीं इस बार के चुनाव में वह वैशाली की जगह समस्तीपुर चले गए हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 14, 2020, 9:03 AM IST
  • Share this:
पटना.  बिहार विधानसभा चुनाव में इस बार लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव (Tej Pratap Yadav) की पत्नी और साली दोनों नहीं दिखेंगी. दरअसल बिहार विधानसभा चुनाव में टिकट की रेस में इस बार जिन दो चेहरों का नाम बड़ी तेजी से सामने आ रहा था उनमें से एक तेजप्रताप यादव की पत्नी ऐश्वर्या राय और दूसरी उनकी साली करिश्मा थीं लेकिन दोनों ही फिलहाल टिकट की रेस से बाहर हो गई हैं. पहले से ऐसे कयास लगाए जा रहे थे कि तेजप्रताप यादव के विरोध में उनकी पत्नी ऐश्वर्या राय को जेडीयू मैदान में उतार सकता है लेकिन ऐसा नहीं हुआ.

तेजप्रताप यादव ने भले ही अपनी सीट बदल दी लेकिन ऐश्वर्या राय भी इस बार के चुनाव मैदान में नहीं आई हैं. दूसरी ओर तेजप्रताप यादव की ही साली जिन्होंने लगभग 4 महीने पहले राष्ट्रीय जनता दल की सदस्यता ली थी को भी पार्टी ने इस बार विधानसभा का टिकट नहीं दिया है. करिश्मा बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री दारोगा प्रसाद राय के परिवार से हैं जिनके राजद में आने के साथ ही इस बात के कयास लगाने तेज हो गए थे कि वो इस बार चुनावी मैदान में होंगी लेकिन करिश्मा राय को टिकट नहीं मिला है.

उनके दानापुर और परसा दो विधानसभा क्षेत्रों से चुनाव लड़ने की चर्चा थी लेकिन लालू प्रसाद यादव की पार्टी ने इन दोनों जगह से अपने उम्मीदवारों के नाम का ऐलान कर कयास पर फिलहाल विराम लगा दिया है. दानापुर सीट से जहां राजद ने इलाके के बाहुबली और डॉन कहे जाने वाले रीतलाल राय को अपना सिंबल दिया है तो वहीं परसा सीट राजद नेता छोटे लाल राय के खाते में गई है, ऐसे में करिश्मा के लिए दोनों रास्ते फिलहाल बंद हो गए हैं. करिश्मा ऐश्वर्या राय की बहन हैं जिन्होंने चुनाव लड़ने के उद्देश्य से ही पार्टी ज्वाइन की थी हालांकि उन्होंने कहा था कि पार्टी मुझे जो भी काम देगी उसे मैं बखूबी निभाऊंगी लेकिन फिलहाल उनके चुनाव लड़ने की संभावनाएं खत्म हो चुकी.



बिहार के चुनाव में लालू प्रसाद के समधी और तेजप्रताप यादव के ससुर मैदान में हैं. चंद्रिका राय को इस बार जेडीयू ने अपना उम्मीदवार बनाया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज