होम /न्यूज /बिहार /2024 में नरेंद्र मोदी के मुकाबले कौन? क्या नीतीश कुमार बिगाड़ेंगे राहुल गांधी का खेल!

2024 में नरेंद्र मोदी के मुकाबले कौन? क्या नीतीश कुमार बिगाड़ेंगे राहुल गांधी का खेल!

नीतीश कुमार के विपक्ष के पाले में जाने से 2024 में नरेंद्र मोदी को चुनौती देने के कयास लगाये जाने लगे हैं (न्यूज़ 18 ग्राफिक्स)

नीतीश कुमार के विपक्ष के पाले में जाने से 2024 में नरेंद्र मोदी को चुनौती देने के कयास लगाये जाने लगे हैं (न्यूज़ 18 ग्राफिक्स)

Bihar News: नीतीश कुमार के कांग्रेस के साथ आने के बाद यह सवाल उठ खड़ा हुआ है कि 2024 में विपक्ष किसके चेहरे को आगे कर च ...अधिक पढ़ें

नई दिल्ली/पटना. नीतीश कुमार के पाला बदलते ही यह सवाल पूछा जाने लगा है कि 2024 में नरेंद्र मोदी के मुकाबले विपक्ष का चेहरा कौन होगा? बीजेपी के विजयरथ को कौन चुनौती देगा? कौन पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) के जादुई चुनावी तिलिस्म को तोड़ने के लिए विपक्ष की तरफ से आगे बढ़ेगा. मोदी को चुनौती देने वाले एक मजबूत नेता की कमी ने पिछले दो बार के लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election) में उनकी राह आसान कर दी थी. क्या 2024 में भी वही इतिहास दोहराया जाएगा या कोई चुनौती पेश की जाएगी, यह बड़ा सवाल है.

नीतीश कुमार (Nitish Kumar) के कांग्रेस के साथ आने के बाद यह सवाल उठ खड़ा हुआ है कि 2024 में विपक्ष किसके चेहरे को आगे कर चुनाव लड़ेगा. यह चेहरा राहुल गांधी होंगे या नीतीश कुमार. या फिर ममता बनर्जी, शरद पवार सरीखे किसी और विपक्षी नेता को आगे किया जाएगा. कांग्रेस सबसे बड़े दल होने का तर्क देकर अब तक प्रधानमंत्री पद पर अपना दावा पेश करती रही है, लेकिन नीतीश कुमार के पाला बदल लेने से यह सवाल उलझ गया है. तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार के अनुभव की तारीफ कर मामला और पेचीदा बना दिया है.

कांग्रेस इस मामले में फूंक-फूंक कर कदम रख रही है. कुछ नेता खुलेआम राहुल गांधी को प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार का दावेदार बता रहे हैं, लेकिन यह छोटे कद के नेता हैं. बड़े कद के नेता इस मुद्दे पर संभलकर बोल रहे हैं. इसके पीछे डर है कि कहीं ‘राहुल राग’ अलापने से विपक्षी दल बिदक न जाएं और चुनाव पूर्व की संभावित गठबंधन बिखर जाए. इसीलिए बड़े नेता चुनाव बाद फैसले की बात कह रहे हैं, तो कुछ नेता वक्त आने पर चेहरा देने की बात कहते हुए यह झगड़ा फिलहाल के लिए टालना चाहते हैं.

2024 में नरेंद्र मोदी को विपक्ष से कौन देगा चुनौती?
कांग्रेस के नेता प्रमोद तिवारी और तारिक अनवर राहुल गांधी को प्रधानमंत्री पद की उम्मीदवारी के लिए उपयुक्त बता रहे हैं तो राजीव शुक्ला और अधीर रंजन जैसे नेता वक्त पर फैसला लिए जाने की वकालत करते हैं.

जाहिर है कांग्रेस 2024 में नरेंद्र मोदी को मजबूत चुनौती देना चाहती है इसलिए नेतृत्व को लेकर अड़ने जैसा संकेत नहीं देना चाहती. पार्टी की रणनीति है कि पहले सबको साथ लाकर मजबूती से चुनाव लड़ा जाए, और बहुमत मिलने या उसके करीब आने के बाद सबसे बड़ा दल होने का तर्क देकर प्रधानमंत्री पद पर अपना दावा पेश किया जाए. फिलहाल कांग्रेस का पूरा ध्यान मजबूत विपक्ष बनाने पर है इसलिए नीतीश कुमार जैसे अनुभवी और ओबीसी नेता को खारिज करने के बजाए उनको भी इस दौड़ में मान रहे हैं. बाद में संख्याबल के हिसाब से दावा ठोकने और उसके पहले संभलकर बोलने की रणनीति का पालन कांग्रेस 2024 तक करने वाली है.

Tags: Bihar News in hindi, Bihar politics, CM Nitish Kumar, Pm narendra modi, Rahul gandhi

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें