बिहार: सिपाही बनने के लिए महिलाओं को 5 मिनट में दौड़ना होगा 1 किमी

9 नवंबर को एक आदेश जारी कर सिपाही के 9900 व फायरमैन के 1965 पदों के लिए 25 नवंबर, 2018 को होने वाली परीक्षा को रद्द कर बहाली भी रद्द कर दी गई थी.

News18 Bihar
Updated: August 8, 2019, 11:14 AM IST
बिहार: सिपाही बनने के लिए महिलाओं को 5 मिनट में दौड़ना होगा 1 किमी
सांकेतिक तस्वीर
News18 Bihar
Updated: August 8, 2019, 11:14 AM IST
बिहार में पुलिस बल की गुणवत्ता बनाए रखने और उसे बढ़ाने के लिए पुलिस मुख्यालय ने महिला सिपाहियों की बहाली के नियमों में बड़े बदलाव की सिफारिश की है. मुख्यमंत्री की अनुशंसा के लिए जो प्रस्ताव भेजा गया है, अगर वह स्वीकृत किया जाता है तो सिपाही पद के लिए महिला अभ्यर्थियों को एक किलोमीटर की दौड़ पांच मिनट में दौड़ लगानी होगी. अगर कोई चार मिनट में दौड़ पूरी करता है तो उसे 100 प्रतिशत अंक मिलेंगे.

नए नियमों से की जाएगी बहाली
प्रभात खबर में प्रकाशित खबर के अनुसार इस प्रस्ताव में लंबाई और वजन का अनुपात भी देखा जाएगा. अभी महिलाओं को एक मिनट की दौड़ पूरी करने के लिए छह मिनट का समय मिलता है. पांच मिनट में दौड़ पूरी करने वाली महिला को पूरे 50 अंक मिलते हैं. 25 नवंबर, 2018 को रद्द की गई बहाली भी नए नियमों से ही की जाएगी.

महिलाएं अधिक संख्या में हुईं चयनित

बता दें कि केंद्रीय चयन परिषद ने वर्ष 2017 में सिपाही के 9900 पदों के लिए विज्ञापन जारी की थी. इसमें सिपाही के पद पर 6,643 महिलाओं और 3, 196 पुरुषों का चयन हुआ था. 67.52 प्रतिशत पदों पर महिलाओं का सेलेक्शन हुआ था.

शारीरिक परीक्षा के आधार पर हुआ चयन
दरअसल दौड़ में 50 में से 50 अंक लाने वाले पुरुषों का अनुपात 35 प्रतिशत था. जबकि महिलाओं का 85 प्रतिशत. सामान्य वर्ग में 269 पुरुष, जबकि 4446 महिलाएं सफल रहीं. शारीरिक परीक्षा के बल पर अनुसूचित जाति की महिलाओं को छोड़कर किसी को आरक्षण की जरूरत ही नहीं पड़ी.
Loading...

कमेटी का किया गया था गठन
इन बिंदुओं पर अध्ययन के लिए एक कमेटी का गठन किया गया. गौरतलब है कि 9 नवंबर को एक आदेश जारी कर सिपाही के 9900 व फायरमैन के 1965 पदों के लिए 25 नवंबर, 2018 को होने वाली परीक्षा को रद्द कर बहाली भी रद्द कर दी गई थी.

ये भी पढ़ें-

केंद्र ने क्यों मांगी बिहार के IAS-IPS ऑफिसर्स की जानकारी?

पत्नी ने पति को प्रेमिका के साथ रंगे हाथों पकड़ा, फिर हुआ ये

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 8, 2019, 10:56 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...