लाइव टीवी
Elec-widget

प्रशांत किशोर ने NRC पर उठाया सवाल, पूछा- कितने गैर BJP शासित राज्यों से ली गई सलाह

भाषा
Updated: November 21, 2019, 7:43 AM IST
प्रशांत किशोर ने NRC पर उठाया सवाल, पूछा- कितने गैर BJP शासित राज्यों से ली गई सलाह
2014 में पीएम मोदी के रणनीतिकार रहते हुए प्रशांत किशोर ने सबसे ज्यादा सुर्खियां बटोरी थी.

बुधवार को संसद में गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने एक बार फिर कहा कि एनआरसी (NRC) को पूरे देश में लागू किया जाएगा.

  • Share this:
पटना. जनता दल यूनाइटेड (JDU) के राष्‍ट्रीय उपाध्‍यक्ष और चुनावी रणनीतिकार (Poll Strategist) प्रशांत किशोर (Prashant Kishor) ने नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटिजंस (National Register of Citizens/NRC) के मामले में बिना नाम लिए बीजेपी (BJP) पर हमला बोला है. गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) के बुधवार को असम की तर्ज पर पूरे देश में एनआरसी (NRC) तैयार करने की कवायद किए जाने के बयान के बाद प्रशांत किशोर ने यह टिप्पणी की है.

कई राजनीतिक पार्टियों के लिए चुनावी रणनीतिकार का काम कर चुके प्रशांत किशोर प्रशांत ने ट्वीट कर कहा कि 15 से अधिक राज्यों में गैर-बीजेपी मुख्यमंत्री हैं और ये ऐसे राज्य हैं जहां देश की 55 फ़ीसदी से अधिक जनसंख्या है. उन्होंने आगे कहा कि आश्चर्य यह है कि उनमें से कितने लोगों से एनआरसी पर विमर्श किया गया और कितने अपने-अपने राज्यों में इसे लागू करने के लिए तैयार हैं!

बता दें कि बुधवार को संसद में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने एक बार फिर कहा कि एनआरसी को पूरे देश में लागू किया जाएगा.


Loading...

PM मोदी के रणनीतिकार रहते हुए प्रशांत किशोर ने बटोरी थी सुर्खियां 
2014 में पीएम मोदी के रणनीतिकार रहते हुए प्रशांत किशोर ने सबसे ज्यादा सुर्खियां बटोरी थी. उन्होंने 2015 में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और जेडीयू के लिए चुनावी रणनीति बनाई थी. साल 2017 में उत्तर प्रदेश में हुए चुनाव में प्रशांत किशोर ने कांग्रेस के लिए रणनीति तैयार की थी, लेकिन तब इस चुनाव में कांग्रेस को हार का सामना करना पड़ा था.

आंध्र प्रदेश में जगन मोहन रेड्डी को दिलाई सत्ता
प्रशांत किशोर ने इस साल आंध्र प्रदेश में जगनमोहन रेड्डी के नेतृत्व वाली वाईएसआर कांग्रेस पार्टी (वाईएसआरसीपी) की जीत में बड़ी भूमिका निभाई है. किशोर की रणनीति से आंध्र प्रदेश में जगनमोहन रेड्डी ने चंद्रबाबू नायडू सरकार को सत्ता से बाहर कर दिया. वाईएसआरसीपी ने लोकसभा की 25 में से 22 सीटों पर जीत दर्ज की. वहीं विधानसभा चुनाव में भी 175 में से 151 सीटों पर फतह हासिल की. कांग्रेस से अलग होने के बाद 2011 में जगन मोहन रेड्डी ने वाईएसआर कांग्रेस पार्टी बनाई थी.

ये भी पढ़ें-

JNU छात्र आंदोलन पर बोले सुशील मोदी- कैंपस में बीफ पार्टी करने वाले शहरी नक्सल

झारखंड चुनाव: प्रचार के लिए क्यों नहीं जाएंगे नीतीश, जानें-बिहार के CM का जवाब

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 21, 2019, 4:41 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...