बिहार में आज से दिखेगा Yaas Cyclone का असर, CM नीतीश कुमार ने अधिकारियों को किया अलर्ट

मौसम विभाग (IMD) के मुताबिक बंगाल की खाड़ी में बन रहा लो प्रेकशर 'यास' चक्रवात को और ताकतवर बना रहा है . (प्रतीकात्मक)

मौसम विभाग (IMD) के मुताबिक बंगाल की खाड़ी में बन रहा लो प्रेकशर 'यास' चक्रवात को और ताकतवर बना रहा है . (प्रतीकात्मक)

Yaas Cyclone In Bihar: मौसम विज्ञान केंद्र द्वारा जारी अलर्ट में कहा गया कि तेज हवा के साथ 80 एमएम-120 एमएम तक बारिश होने की संभावना है. बिजली आपूर्ति भी बाधित हो सकती है.

  • Share this:

पटना. बिहार पर भी चक्रवाती तूफान यास (Yaas Cyclone) का खतरा मंडरा रहा है. चक्रवात यास (Cyclone Yaas) बुधवार दोपहर ओडिशा और पश्चिम बंगाल के तट से टकराएगा. तूफान को लेकर ओडिशा और पश्चिम बंगाल के अलावा बिहार-झारखंड में भी अलर्ट जारी किया गया है. यास तूफ़ान को लेकर मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) ने भी वीसी के जरिए अधिकारियों के साथ महत्वपूर्ण बैठक की. मुख्‍यमंत्री ने वरिष्ठ अधिकारियों के साथ कई महत्वपूर्ण मसलों पर समीक्षा की और उसके बाद सभी DM और SP को कई निर्देश जारी किए.

बैठक में नीतीश कुमार का सबसे ज़्यादा फोकस चक्रवाती तूफान याास को लेकर था. पश्चिम बंगाल में उठे चक्रवर्ती तूफान यास का बिहार पर क्या असर पड़ेगा इसको लेकर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सभी जिला अधिकारियों के साथ अहम बैठक की और सबसे पहले तैयारियों के बारे में जानकारी ली. बिहार में यास चक्रवर्ती तूफान का ज्यादा प्रभाव न पड़े इसको लेकर आपदा प्रबंधन विभाग के प्रधान सचिव सहित एसडीआरएफ, एनडीआरएफ और सभी जिलाधिकारियों की क्या तैयारियां हैं. इसको लेकर महत्वपूर्ण निर्देश जारी किए.

यास का असर अगर राज्य में विद्युत आपूर्ति पर पड़ता है तो कोविड के इलाजरत मरीजों पर और हॉस्पिटलों में भर्ती लोगों पर ज्यादा असर न पड़े इसको लेकर मुख्यमंत्री ने कई निर्देश जारी किए हैं. साथ ही जो जिला ज़्यादा प्रभावित हो सकता है, इन ज़िलों को विशेष एहतियात बरतने का निर्देश जारी किया गया.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज