Lockdown 2.0: आर्थिक तंगी झेल रहे कलाकारों को प्रोत्साहन राशि देगी बिहार सरकार, जानें पूरी प्रक्रिया
Patna News in Hindi

Lockdown 2.0: आर्थिक तंगी झेल रहे कलाकारों को प्रोत्साहन राशि देगी बिहार सरकार, जानें पूरी प्रक्रिया
मामले की जानकारी देते कला संस्कृति एंव युवा विभाग के मंत्री प्रमोद कुमार

कला संस्कृति विभाग ने प्रोत्साहन राशि देने के लिए कलाकारों से अपील की है कि वो अपनी इंट्री भेजने के लिए कोरोना (Corona) से बचाव और रोकथाम का एक पंद्रह से बीस मिनट का वीडियो (Video) बनाकर विभाग को इस इमेल पर culturebihar@gmail.com पर अटैच या अपलोड कर भेजें,

  • Share this:
पटना. कला संस्कृति एवं युवा विभाग ने बिहार के ग्रामीण कालकारों (Folk Artist) को प्रोत्साहन राशि देने का निर्णय लिया है. बिहार सरकार (Government Of Bihar) ने प्रदेश के उन ग्रामीण कलाकारों को जितना हो सके प्रोत्साहन देने का फैसला किया है जिनकी पूरी जीविका उनके कला-प्रदर्शन पर निर्भर है. इसको लेकर कला संस्कृति एवं युवा विभाग (Youth And Culture Department) के मंत्री प्रमोद कुमार का कहना है कि हमने कलाकारों को एक चिट्ठी भी लिखी है कि इस लॉक़ाउन कि घड़ी में हम उनके साथ है औऱ हमारी कोशिश है कि हम उनकी मदद कर पाए. हम बिहार के उन कलाकारों को प्रोत्साहन राशि देंगे जो ग्रामीण इलाके में रहते हैं और अपनी आजीविका के लिए पूरी तरह लोक कला के प्रदर्शन पर निर्भर हैं.

विभाग को भेजें अपनी कला का वीडियो

कला संस्कृति विभाग ने प्रोत्साहन राशि देने के लिए कलाकारों से अपील की है कि वो अपनी इंट्री भेजने के लिए कोरोना से बचाव और रोकथाम का एक पंद्रह से बीस मिनट का वीडियो बनाकर विभाग को इस इमेल पर culturebihar@gmail.com पर अटैच या अपलोड कर भेजें, साथ ही ये भी कहा गया है कि किसी भी तरह के फिल्मी गीतों या फिल्मी गीतों पर आधारित नृत्य का वीडियो इस योजना के लिए वैध नहीं होगा.



खुद मंत्री करेंगे समीक्षा
कला संस्कृति विभाग के मंत्री प्रमोद कुमार खुद सारे भेजे गए वीडीयो की समीक्षा करेगें. इसके बाद चयन के गए वीडियो कि जानकारी विभाग कलाकारों को देगा. जिनके वीडीयो को सेलेक्ट जाएगा उनको फिर विभाग उनको प्रोत्साहन राशि देगी. चयन संबंधित जानकारी विभाग की वेबसाइट जो कि  www.yac.bih.nic.in है  के माध्यम से संबंधित कलाकारों को भी दी जाएगी.

सोशल डिस्टेंसिंग का रखें ख्याल

विभाग ने इस योजना के बारे में एक पत्र भी कलाकारों को भेजा है जिसमें वीडीयो रिकॉर्डिंग करते समय सोशल डिस्टेंस का पूर्ण पालन करने को अनिवार्य बताया गया है. ये भी कहा गया है कि एक से अधिक व्यक्ति प्रस्तुति में शामिल ना हो. कलाकार अपने प्रदर्शन से पहले अपना पूरा परिचय दें जैसे – नाम, पिता का नाम, पूर्ण पता और मोबाइल नंबर बोलकर बताएं. उसके बाद बतायें कि वो कौन सी कला का प्रदर्शन करने जा रहे हैं. कला का नाम बतायें और फिर अपनी प्रस्तुति दें वीडियो कम से कम इस स्तर का हो कि लोग उसको देखकर स्पष्ट परिस्थिति का आनंद ले सकें और मूल्यांकन समिति द्वारा डिजिटल प्लेटफॉर्म पर अपलोड करने योग्य समझा जाए.

कलाकार दें अपनी पूरी जानकारी

विभाग का कहना है  कि इस वीडियो को अटैचमेंट के रूप में अपलोड करने के साथ-साथ ईमेल में जरुरी जानकारी भी साझा करें .  जैसे – नाम, पिता/पति का नाम, आधार नंबर, मोबाइल नंबर, कला का नाम, पता, अपने बैंक खाते का विवरण अंग्रेजी में नाम, बैंक अकाउंट नंबर, बैंक का नाम और आईएफएससी कोड, आधार कार्ड की फोटो एवं एक चेक उपलब्ध हो तो फोटो उसका फोटो अटैच करें.

ये भी पढ़ें- लॉकडाउन में मछली पार्टी करने वाले शिक्षा मंत्री के स्टाफ समेत 25 के खिलाफ केस

ये भी पढ़ें- बर्थ डे केक लेकर बच्चे के घर पहुंचे थानेदार, पुलिस की मौजूदगी में मना जन्मदिन
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज