Assembly Banner 2021

पटना: रोजगार मांग रहे वाम दलों के छात्रों पर पुलिस ने किया लाठीचार्ज, आंसू गैस के गोले भी दागे

पटना में वाम दलों के प्रदर्शनकारियों पर पुलिस ने लाठी चार्ज किया है.

पटना में वाम दलों के प्रदर्शनकारियों पर पुलिस ने लाठी चार्ज किया है.

पटना (Patna) में रोजगार (Jobs) और रुकी भर्तियों की बहाली की मांग को लेकर प्रदर्शन कर रहे वाम दलों (Left Party) के छात्रों पर पुलिस (Police) ने लाठीचार्ज किया है. इसमें कई छात्रों का सिर फट गया है और दर्जनों छात्र घायल हैं.

  • Share this:
पटना. बिहार (Bihar) में 19 लाख रोजगार (Jobs) देने के सरकार के वादे और बिहार में रुकी भर्तियों की बहाली की मांग को लेकर वाम दलों (Left Party) के छात्रों प्रदर्शन कर रहे थे, जिन पर पुलिस (Police) ने लाठीचार्ज किया है. इतना ही नहीं पुलिस ने छात्रों पर आंसू गैस (Tear Gas) के गोले दागे और वाटर कैनन का भी इस्तेमाल किया.

बिहार मे सरकार ने 19 लाख रोजगार देने के वादे और रिक्त पदों पर रुकी भर्तियों को जल्द बहाल करने और रुकी हुई परीक्षाओं को जल्द पूरा कराने की मांग को लेकर AISA, एनोस समेत कई वाम संगठनों ने आज विधानसभा तक मार्च का कार्यक्रम रखा था.  इस आंदोलन को लेकर हजारों की संख्या में छात्र गांधी मैदान पहुचे थे.

RJD विधायक बोले- जांच के बाद ही लूंगा कोरोना टीका, क्या पता PM-CM को स्पेशल वैक्सीन लगी हो
वाम दलों के कई विधायक और छात्र संगठन के बड़े नेता प्रदर्शन में शामिल थे. जब छात्रों ने विधानसभा की तरफ बढ़ना चाहा तो पुलिस ने छात्रों की भीड़ को जेपी गोलम्बर पर रोक दिया. इसके बाद छात्रों और पुलिस में काफी देर तक झड़प होती रही. पुलिस की बात नहीं मानने पर छात्र उग्र हो गये और पुलिस ने छात्रों पर वाटर कैनन का प्रयोग कर भीड़ को तितर-बितर करने का प्रयास किया. लेकिन इसके बाद भी छात्र मौके से नहीं हटे तो पुलिस ने छात्रों पर लाठी चार्ज किया और आंशु गैस के गोले भी छोड़े.
पुलिस का कहना है कि इस दौरान छात्रों ने पुलिस पर पत्थर भी फेंके, लेकिन इसमें कोई पुलिसकर्मी घायल नहीं हुआ है. वहीं पुलिस के द्वारा लाठीचार्ज में कई युवाओं के सिर फट गए है और दर्जनों लोग बुरी तरह घायल हुए हैं, जिन्हें पीएमसीएच में भर्ती कराया गया है. पुलिस के इस तरह से लाठीचार्ज की वाम दलों के नेताओं ने आलोचना की है. साथ ही पुलिस पर करवाई की मांग की है. बाम दल के नेताओं का आरोप है कि अपनी कमियों को छ्पाने के लिए नीतीश सरकार पुलिस की लाठियों का सहारा ले रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज