पटना: अब कोरोना गाइडलाइंस फॉलो नहीं की तो होगी परेशानी, पुलिस की टीमें गठित

पटना की सड़क पर बिना मास्क लगाए चलने वालों का चालान करती हुई पुलिस की टीम.

पटना की सड़क पर बिना मास्क लगाए चलने वालों का चालान करती हुई पुलिस की टीम.

पटना (Patna) में मास्क नहीं लगाने पर पुलिस (Police) लोगों का चालान काट रही है. कोरोना गाइडलाइंस (Corona Guidelines) का सख्ती से पालन कराने के लिए प्रशासन ने पुलिस की कई टीमें बनाई हैं. साथ ही प्रशासन ने ड्यूटी मजिस्ट्रेट भी नियुक्त किया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 18, 2021, 4:58 PM IST
  • Share this:
पटना. बिहार (Bihar) की राजधानी पटना में कोरोना (Corona) का कहर बढ़ता ही जा रहा है, जिसके बाद कोरोना को रोकने के लिए प्रशासन सख्त हो गया है. अब राजधानी पटना में बिना मास्क (Mask) लगाए निकलने वाले लोगों पर पुलिस (Police) जुर्माना कर रही है. शहर को कोरोना गाइडलाइंस को फॉलो कराने के लिए पुलिस की गई टीमें बनाई गई हैं. साथ ही प्रशासन ने ड्यूटी मजिस्ट्रेट भी तैनात किये हैं.

पुलिस की टीमें कोरोना सक्रंमण की रोकथाम और बचाव के लिये पटना के चौक-चौराहे से लेकर अनुमंडल तक मास्क की चेकिंग कर रही हैं. सड़कों पर जो लोग बिना मास्क दिख रहे हैं, उनका पचास रुपये का चालान काटा जा रहा है. चालान काटने के बाद जिससे पैसा वसूला जा रहा है, उन्हें ड्यूटी मजिस्ट्रेट की ओर से एक थ्री लेयर डिस्पोजेबल मास्क दिया जा रहा है. यह कदम पटना जिला प्रशासन की ओर से ऐहतियात के तौर पर उठाया गया है. माना जा रहा है कि कई राज्यों में कोरोना के मरीज लगातार बढ़ रहे हैं. ऐसे में पहले से अगर यह शख्ती जारी रहेगी तो ज्यादा से ज्यादा लोगों को कोरोना से बचाया जा सकता है.

किसी भी वक्त गिरफ्तार हो सकते हैं बिहार के मंत्री रामसूरत राय के भाई, हाथ धोकर पीछे लगे थे तेजस्वी

रेलवे स्टेशन, बस अड्डा और एयरपोर्ट पर सख्ती
देश के कई हिस्से में कोरोना एक बार फिर से तेजी से बढ़ने लगा है, जिसको देखते हुए बिहार सरकार ने कोरोना प्रभावित राज्यों से आने वालों के लिए कोरोना निगेटिव रिपोर्ट लाना अनिवार्य कर दिया है. दरअसल होली में लाखों लोग बिहार में अपने घरों में आते हैं. ऐसे में प्रभावित राज्यों से आने वाले लोगों से कोरोना फैलने का डर है. इसलिए महाराष्ट्र, पंजाब और केरल से आने वाले लोगों के लिए यह अनिवार्य कर दिया गया है. जो लोग कोरोना की रिपोर्ट साथ नही लाएंगे, उनकी कोरोना जांच के लिये पटना जंक्शन, बस अड्डा और एयरपोर्ट पर व्यवस्था की गई है. यहां जांच के दौरान जो लोग भी पॉजिटिव पाये जाएंगे उनको यहीं से सीधे क्वारंटीन सेंटर भेज दिया जाएगा और जो लोग निगेटिव मिलेंगे उनको घर जाने दिया जाएगा.

ज्यादा प्रभावित नहीं है बिहार

बिहार में पिछले 24 घंटे में कुल 58 लोगों में कोरोना की पुष्टि हुई है, जिसमें सबसे ज्यादा भागलपुर में एक साथ 17 लोग पॉजिटिव पाए गए हैं. वहीं राजधानी पटना में 14 लोग कोरोना पॉजिटिव पाये गए हैं. स्वास्थ विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक राज्य में एक्टिव कोरोना मरीजों की संख्या 363 है. लेकिन, अन्य राज्य में कोरोना के बढ़ते मरीजों की संख्या को देखते हुये मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने स्वास्थ्य विभाग को कोरोना जांच प्रतिदिन सत्तर हजार तक करने का आदेश दिया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज