होम /न्यूज /बिहार /छपरा में पुलिस ने ऐसे नाकाम की पुलवामा जैसी बड़ी आतंकी साजिश, भारी मात्रा में विस्फोटक और हथियार बरामद

छपरा में पुलिस ने ऐसे नाकाम की पुलवामा जैसी बड़ी आतंकी साजिश, भारी मात्रा में विस्फोटक और हथियार बरामद

छपरा में पुलिस ने पुलवामा जैसी बड़ी आतंकी साजिश को नाकाम किया है.

छपरा में पुलिस ने पुलवामा जैसी बड़ी आतंकी साजिश को नाकाम किया है.

जम्मू पुलिस (Jammu Police) ने रविवार को एक बड़ी आंतकी वारदात (Terrorist attack) को नाकाम कर दिया है. छपरा में आतंकी पुल ...अधिक पढ़ें

छपरा. जम्मू पुलिस (Jammu Police) ने रविवार को एक बड़ी आंतकी वारदात (Terrorist Attack) को नाकाम कर दिया है. छपरा में आतंकी पुलामा जैसे हमले की साजिश को दोहराना चाहते थे, लेकिन उससे पहले खुफिया विभाग और जम्मू पुलिस ने जाल बिछाकर उनके मनसूबों पर पानी फेर दिया. सुरक्षा बलों ने मौके से भारी मात्रा में विस्फोटक के साथ सात पिस्टल और पांच आंतकियों को गिरफ्तार किया है. जिसका मास्टर माइंड हिदायतुल्लाह मल्लीक है. हिदायतुल्लाह से पूछताछ में कई ऐसे खुलासे हुए हैं जो खुफिया विभाग और तमाम जांच एजेंसियों के कान खड़ हो गये हैं. अब जांच एजेंसियां इस माड्यूल को खंगालने में लगी हैं.

यह पहली बार सामने आया है, जिसमें आतंकी बिहार के बने अवैध हथियार से देश के खिलाफ खूनी खेल खेलने की तैयारी में थे, लेकिन उससे पहले पुलिस के शिकंजे में आ गये. जिसका सीधा कनेक्शन बिहार के छपरा जिले से है. यहां के बहुआरा गांव से बिहार एटीएस ने एक युवक को हिरासत में लेकर पूंछताछ कर रही है.

कैसे छपरा में जुड़ गया मामला   

पुलवामा हमले की वर्षी को दोहराने के लिये आंतकियों ने जो साजिश रची उसके मास्टर माइंड हिदायतुल्लाह मल्लीक को पुलिस ने 7 फरवरी को जम्मू से गिरफ्तार किया था. हिदायतुल्लाह से पूछताछ के बाद सुरक्षा एजेंसियों ने सोहेल को जम्मू बस अड्डे से गिरफ्तार किया था. जिसके बाद परत दर पर इस साजिश की कहानी खुलती चल गई. पूछताछ के दौरान यह खुलासा हुआ की सोहेल जम्मू का रहने वाला है, जो चंडीगढ़ में रहकर पढ़ाई करता है. जिसकी दोस्ती जम्मू कार रहने वाला काजी से है. काजी भी चंडीगढ़ में रहकर पढ़ाई करता है.

शराबी पुलिसवालों को बर्खास्त करने नीतीश के फरमान पर घिरी सरकार, विपक्ष बोला-बलि का बकरा न बनाएं CM

इन दोनों का संम्पर्क बिहार के छपरा जिले के बहुआरा गांव का रहने वाला मुश्ताक से है. मुश्ताक भी मोहाली (चंडीगढ़) में रहकर पढ़ता है. मुश्ताक के पिता रिटायर्ड टीचर है, जो अपने परिवार के साथ बहुआरा गांव में रहते हैं और इनके साथ मुश्ताक का भाई जावेद रहता है. पूछताछ में जांच ऐजेंसिंयो को हिदायतुल्लाह ने बताया था कि उसके पास से बरामद किये गये सातो पिस्टल छपरा से लाये गये थे. सुत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक जांच ऐंजेंसियों और पुलिस को शक है कि मुश्ताक ही अपने भाई के जरिये जम्मू तक हथियार भेजवाये हैं.

हिदायतुल्लाह और उसके शागिर्दों के पास से बरामद हथियार की जांच जारी है. पुलिस को शक है कि अवैध हथियार बनाने में अपनी अलग पहचान रखने वाले मुंगेर जिले से तो यह हथियार कहीं मुश्ताक के पास तो नहीं पहुंचा. ऐसे में मुश्ताक से बिहार एटीएस पूछताछ कर रही है. जानकारी के मुताबिक इस जम्मु तक हथियार पहुंचाने का तार कहां से जुड़ा है. लेकिन जांच ऐजेंसियां हैरत में हैं. पहली बार देखने को मिला है जब आंतकी बिहार के बने अवैध हथियार का इस्तेमाल कर रहे हैं. ऐसे में जांच ऐजेंसियों को शक है की यह हथियार मुंगेर का बना हो सकता है जिसकी मारक झमता किसी भी अत्याधुनिक हथियार से कम नहीं होता है, लेकिन अभी इसका खुलासा होना अभी बाकी है.

Tags: Bihar News, Chapra news, Crime News

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें