लाइव टीवी

पटना: आउटसोर्सिंग के विरोध में निगम कर्मचारियों ने लटकाए मरे हुए जानवर, चौराहों पर फेंका कूड़ा

RaviS Narayan | News18 Bihar
Updated: February 3, 2020, 1:53 PM IST
पटना: आउटसोर्सिंग के विरोध में निगम कर्मचारियों ने लटकाए मरे हुए जानवर, चौराहों पर फेंका कूड़ा
पटना नगर निगम के कर्मचारियों ने चौराहों पर कूड़ा फेंककर विरोध जताया

बिहार के नगर निगम कर्मचारियों ने सोमवार को निगम मुख्यालय मौर्यालोक का घेराव किया. नियमितीकरण की मांग कर रहे इन कर्मचारियों ने राजधानी पटना के मुख्य चौराहों पर कचरा फेंककर निगम में आउटसोर्सिंग (Outsourcing) के खिलाफ अपना विरोध भी दर्ज कराया.

  • Share this:
पटना. बिहार की राजधानी पटना (Patna) में नगर निगम (Patna Municipal Corporation) के चतुर्थ वर्गीय कर्मचारियों ने आज हड़ताल (Strike) कर नगर निगम कार्यालय को ठप्प कर दिया. चतुर्थ वर्गीय कर्मचारी खुद को नियमित (Regularise) करने की मांग को लेकर सोमवार सुबह से हंगामा कर रहे हैं. कर्मचारियों ने इस दौरान खुद ही राजधानी पटना के मुख्य चौराहों पर कूड़ा कचरा फेंक कर अपना विरोध (Protest) जताया. हजारों की संख्या में चतुर्थवर्गीय कर्मचारियों ने निगम मुख्यालय मौर्यालोक का घेराव किया और निगम में आउटसोर्सिंग के तहत बहाली के खिलाफ अपना विरोध जताया, दरअसल निगम कर्मचारी इन पदों पर खुद के नियमितिकरण की मांग कर रहे हैं.

निगम मुख्यालय पर मरे हुए जानवरों को लटकाया
नगर निगम के कर्मचारियों ने विरोध प्रदर्शन के दौरान पटना के कई चौराहों जैसे डाक बंगला चौराहा और इनकम टैक्स चौराहा आदि पर कूड़ा कचरा फेंक कर प्रदर्शन किया. कर्मचारियों ने नगर निगम मुख्यालय के सामने मरे हुए जानवरो को भी लटका दिया. कर्मचारियों का कहना है कि अगर मांगें नहीं मानीं गईं तो हड़ताल जारी रहेगी. प्रदर्शन के दौरान कर्मचारियों ने सरकार और नगर निगम के खिलाफ जमकर नारे लगाये.

News - आंदोलनकारी चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों ने निगम मुख्यालय का घेराव किया
आंदोलनकारी चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों ने निगम मुख्यालय का घेराव किया


आउटसोर्सिंग को लेकर है आक्रोश
चतुरर्थवर्गीय कर्मचारियों ने नगर आवास विभाग की आउटसोर्सिंग के तहत मजदूरों को रखने के आदेश के बाद आज मजदूरों ने आक्रोश जताया और हड़ताल की. चतुर्थ वर्गीय कर्मचारी संघ के महासचिव नन्दकिशोर दस के कहना है कि विभाग ने मजदूरों के साथ धोखा किया है. जो कर्मचारी 10 सालों से कम कर रहे हैं उन्हें नियमित करने पर बात हुई थी फिर ये आदेश कैसे आ गया.

ये भी पढ़ें - तेजप्रताप यादव को सताने लगा हार का डर! सेफ जोन की तलाश में जुटे 'लालू के लाल'
Bihar Intermediate Exam 2020: परीक्षा आज से, जूता-मोजा पहन कर आए तो नहीं मिलेगा प्रवेश

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 3, 2020, 1:52 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर