बायसी की घटना पर डिप्टी CM सख्त, आरोपियों की शीघ्र गिरफ्तारी के लिए DGP को दिये निर्देश

पूर्णिया के बायसी की घटना पर डिप्टी सीएम सख़्त (फाइल फोटो)

पूर्णिया के बायसी की घटना पर डिप्टी सीएम सख़्त (फाइल फोटो)

Purnia News: पूर्णिया के बायसी में घटित घटना में 19 मई को एक सेवानिवृत्त चौकीदार मेवालाल राय की हत्या घातक हथियारों के द्वारा कर दी गई थी, साथ हीं 13 घरों को जला दिया गया था

  • Share this:

पटना. बिहार के उप मुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद ने पूर्णिया के बायसी प्रखंड के अंतर्गत खपड़ा पंचायत के नियामतपुर मझुआ गांव में अवांछित तत्वों द्वारा की गई आगजनी एवं हत्या की घटना की कड़ी निंदा की है. उन्होंने बिहार के पुलिस महानिदेशक, पूर्णिया के आई.जी, जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक से फोन पर बात कर घटना की विस्तृत जानकारी ली.

क्या है मामला

19 मई को घटित घटना में एक सेवानिवृत्त चौकीदार मेवालाल राय की हत्या घातक हथियारों के द्वारा कर दी गई थी, साथ हीं 13 घरों को जला दिया गया था और कई लोगों के साथ मारपीट की गई. इस पूरे मामले में तीन अलग-अलग प्राथमिकी दर्ज की गई है और अभी तक दो नामजद अभियुक्तों की गिरफ्तारी हुई है.

पीड़ित परिवारों को दी जा रही मदद
डिप्टी सीएम ने जानकारी देते हुए कहा है की जिला प्रशासन के अनुसार सभी 13 पीड़ित परिवारों को सूखा राशन की आपूर्ति करते हुए अनुग्रह अनुदान की राशि मुहैया करायी गयी है तथा अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम के सुसंगत प्रावधानों के मुताबिक मुआवजा की राशि भी उपलब्ध कराई गई है. प्राथमिकी दर्ज होने के बाद मृतक सेवानिवृत्त चौकीदार मेवालाल राय के आश्रित को 4,12,500 रुपए मुआवजा की राशि प्रथम किस्त के रूप में भुगतान हेतु कार्रवाई की गई है.

उन्होंने बताया कि प्रभावित 13 परिवारों में से 7 परिवारों को पूर्व में आवास भूमि उपलब्ध कराया गया था, शेष 6 परिवारों को आवास हेतु जमीन उपलब्ध कराने की प्रक्रिया जिला प्रशासन, पूर्णिया के स्तर से की जा रही है. उन्होंने कहा कि इसके अलावा सभी पीड़ित व्यक्तियों को भोजन, योग्य लाभुकों को पेंशन योजना तथा प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के अंतर्गत लाभान्वित करने की कार्रवाई की जा रही है.

मामले का होगा स्पीडी ट्राईल



उप मुख्यमंत्री ने घटना की तीव्र भर्त्सना करते हुए कहा कि घटना के लिए जिम्मेवार अन्य नामजद आरोपियों की शीघ्र गिरफ्तार कर कानूनी कार्रवाई की जाए तथा इस प्रकार की घटना की पुनरावृत्ति नहीं हो, इसके लिए पुख्ता इंतजाम किए जाएं. उप मुख्यमंत्री ने निर्देश देते हुए कहा कि घटना के सभी नामजद अभियुक्तों का शीघ्र स्पीडी ट्रायल कराते हुए पीड़ित परिवारों के सुरक्षा के समुचित इंतजाम सुनिश्चित की जाये.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज