बिहार: पूर्णिया में एक ऐसा सरकारी स्कूल, जो बना बदमाशों की रातें रंगीन करने का अड्डा!
Purnia News in Hindi

बिहार: पूर्णिया में एक ऐसा सरकारी स्कूल, जो बना बदमाशों की रातें रंगीन करने का अड्डा!
इस स्कूल के शिक्षकों ने मामले की शिकायत उच्चाधिकारियों से की है.

बिहार (Bihar) के पूर्णिया (Purnia) जिला इन दिनों अभिनेता सुशांत सिंह की मौत के बाद देशभर में चर्चा में है. सुंशात सिंह मूलत: इसी जिले के निवासी थे.

  • Share this:
पूर्णिया. बिहार (Bihar) के पूर्णिया (Purnia) जिला इन दिनों अभिनेता सुशांत सिंह की मौत के बाद देशभर में चर्चा में है. सुंशात सिंह मूलत: इसी जिले के निवासी थे. लेकिन इस जिले के एक स्कूल की भी चर्चा इन दिनों प्रदेश में हो रही है. बताया जा रहा है कि जिले के चूनापुर गांव के स्कूल में क्वारंटाइल सेंटर बनाये जाने के बाद यहां दिन में कोई गहमागहमी नहीं रहती है, लेकिन यहां रात में मनचलों और असामाजिक तत्वों का डेरा हो जाता है. चर्चा है कि मनचले यहां रात को रंगनी करने में जुटे रहते हैं.

आरोप लगे हैं कि इन लोगों ने स्कूल के कैंपस में बजाप्ता अपना चूल्हा बना रखा है और कमरों के ताले तोड़कर उसमें अपनी महफिल जमाते हैं और मांस, मदिरा, और सुरा सुंदरी के तमाम इन्तजाम करते कराते हैं. कैंपस में तास के पत्ते चारों ओर बिखरे पड़े हैं. स्कूल कैंपस की रात के रंगीन रहने की बात शिक्षकों को भी पता है और उन्होंने इसकी शिकायत भी उच्च अधिकारियों से की है.





स्कूल में कई कमरे
मध्य विद्यालय चूनापुर का परिसर काफी बडा है और स्कूल में कई कमरे हैं. चूंकि यह स्कूल गांव से दूर है. इस वजह से यहां रात में महफिल जमाना बदमाशों के लिए आसान है. ये गांव से शहर से लगा है. शिक्षक कहते हैं कि रात में कुछ बदमाश शहर से अपना जुगाड़ लेकर आते हैं तो कुछ गांव से और दोनों मिलकर स्कूल कैंपस में अपनी आपत्तिजनक गतिविधियां करते हैं. स्कूल में बनी बच्चों की पोषणवाटिका बदमाशों ने उजाड़ कर अपने चूल्हे का जलावन बना दिया है.

शिकायत का दावा
जानकारी विद्यालय संचालन से जुड़े लोगों में शामिल गोआसी पंचायत के स्कूल कार्डिनेटर अवनीन्द्र ठाकुर और स्कूल के हेडमास्टर कहते हैं कि बदमाश गांव के बाहर इस स्कूल में आये दिनों रात में घेरा-डेरा डाले रहते हैं और पिछले 28 तारीख को जैसे ही इस स्कूल से क्वारंनटाइन सेंटर हटा बदमाशों ने फिर अपनी हरकत जारी रखी है. जिला शिक्षा पदाधिकारी को भी यह बात बतायी गयी है. साथ ही पुलिस थाना की गश्ती टीम को भी लगातार इसकी सूचना दी जाती रही है, पर किसी की ओऱ से कोई पहल नहीं की गयी.

ये भी पढ़ें:
दिल्ली में इस बार समय से पहले पहुंचेगा मानसून, 5 दिनों में देश के इन इलाकों में भी होगी भारी बारिश!

India-China Rift: बेहद खतरनाक है भारत को चीन से जोड़ने वाला ये रास्ता, परेशान होते हैं जवान!
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज