IIT, IFS और अब UPSC, पहले ही प्रयास में सफलता के झंडे गाड़ते रहे हैं पूर्णिया के शिखर
Purnia News in Hindi

IIT, IFS और अब UPSC, पहले ही प्रयास में सफलता के झंडे गाड़ते रहे हैं पूर्णिया के शिखर
शिखर चौधरी की सफलता पर परिवार में गर्व का माहौल है.

UPSC Results: पूर्णिया के रहने वाले शिखर चौधरी ने पहली कोशिश में ही यूपीएससी की परीक्षा पास की ली है. उन्हें 97वां रैंक मिला है. इससे पहले शिखर ने पहली बार में ही भारतीय वन सेवा (IFS) में देश में 9वां स्थान प्राप्त किया था.

  • Share this:
पूर्णिया. बिहार के पूर्णिया (Purnia) जिले के सुखसेना गांव के रहने वाले शिखर चौधरी (Shikhar Chaudhary) ने अपने पहले ही प्रयास में यूपीएससी परीक्षा (UPSC Exam) पास कर ली है. उन्हें 97वां रैंक मिला है. इससे पहले शिखर ने पहली बार में ही भारतीय वन सेवा (IFS) में देश में 9वां स्थान प्राप्त किया था. साथ ही पहली ही कोशिश में आईआईटी एग्जाम में भी उत्तीर्ण हुए थे. यूपीएससी परीक्षा में शिखर की इस उपलब्धि से परिवार और गांव में खुशी की लहर देखी जा रही है. लोग एक-दूसरे को मिठाई खिलाकर बधाइयां दे रहे हैं.

शिखर चौधरी बचपन से मेधावी छात्र...
शिखर के चाचा सलिल चौधरी, जो पूर्णिया स्टेट बैंक में सहायक महाप्रबंधक हैं, ने कहा कि शिखर बचपन से ही काफी मेधावी छात्र रहा है. वह शुरू से ही अपने क्लास में प्रथम आता था. उनके पिता अनिल चौधरी पुणे में रेलवे में चीफ इंजीनियर हैं. इससे पहले शिखर ने 2020 में ही भारतीय वन सेवा में देश में 9वां स्थान लाया था. उसने अपने पहले प्रयास में ही आईआईटी की परीक्षा पास की थी.

पिता अनिल चौधरी का कहना है कि शिखर ने 97वां रैंक लाया है. उम्मीद है कि उसे आईएएस या आईपीएस कैडर मिलेगा. वहीं शिखर की बहन निधि और भाई रोशन ने कहा कि शिखर की इस उपलब्धि से उन्हें भी प्रेरणा मिली है और वे लोग काफी खुश हैं.
शिखर चौधरी ने दादा का किया नाम रोशन


शिखर ने आज अपने दादा सैनिक स्कूल तिलैया के पूर्व शिक्षक स्वर्गीय विजेंद्र चौधरी का नाम भी रोशन किया है. पिता ने कहा कि शिखर का आज मेडिकल जांच हो रहा है. वह फिलहाल पुणे में है. शिखर की पढ़ाई भागलपुर, लखनऊ और आईआईटी पटना में हुई. परिजनों को उम्मीद है कि शिखर को आईएएस या आईपीएस मिलेगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज