शाहनवाज हुसैन का लालू परिवार पर हमला, राजद को बताया जमीन लिखाकर नौकरी देने वाली पार्टी  

पत्रकारों से बात करते शाहनवाज हुसैन
पत्रकारों से बात करते शाहनवाज हुसैन

Bihar Assembly Election: शाहनवाज हुसैन से पहले राजद और तेजस्वी यादव पर महाराष्ट्र के पूर्व सीएम देवेंद्र फडवणीस ने भी हमला बोला था और कहा था कि अगले 15 साल में बिहार को आत्मनिर्भर बनाना है. इसकी नींव इसी पांच साल में रखी जाएगी.

  • News18 Bihar
  • Last Updated: September 29, 2020, 12:38 PM IST
  • Share this:
पूर्णिया. भाजपा के वरिष्ठ नेता और प्रवक्ता शाहनवाज हुसैन (Shahnawaz Hussain) ने कहा है कि राजद जमीन लिखा कर नौकरी देने वाला दल है और उसे रोजगार के सवाल के साथ खड़े होने का कोई हक नहीं है. वो तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) के उस बयान का जवाब दे रहे थे जिसमें नीतीश सरकार को रोजगार देने में विफल बताया गया था. इस बयान के पहले भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता शाहनवाज हुसैन ने किशनगंज और पूर्णिया के मुस्लिम बाहुल्य अमौर विधानसभा क्षेत्र का दौरा किया.

उन्होंने पत्रकारों को बताया कि नीतीश कुमार के नेतृत्व में जनता फिर जनादेश देने को तैयार है क्योंकि उसे विकास का दौर हर हाल में चाहिए. शाहनवाज ने लालू राबड़ी राज के विकास और नीतीश कुमार के दौर में किये गए कई विकास कार्यों के आंकड़े बताये और कहा कि फर्क शीशे की तरह साफ है. उन्होंने लोजपा के साथ सीटों के बंटवारे की बात पर बताया कि सभी दलों को हर सीट पर संगठन खड़ा करना और दावा करना उसका काम है लेकिन चुनाव कहां-कहां से लड़ना है ये गठबन्धन का फैसला होता है.





शाहनवाज ने पटना में जन अधिकार पार्टी और भाजपा कार्यकर्ताओं में पार्टी आफिस पर भिड़ंत के लिए पप्पू यादव की जन अधिकार पार्टी को कसूरवार ठहराया. इससे पहले सोमवार को पटना में बिहार भाजपा के चुनाव प्रभारी देवेन्द्र फडणवीस ने भी तेजस्वी यादव के 10 लाख रोजगार देने वाले बयान पर जोरदार हमला बोला था. फडणवीस ने कहा था कि तेजस्वी अपने पहले कैबिनेट में 10 लाख लोगों को रोजगार देने के नाम पर 10 लाख तमंचे खरीदेंगे औरे अपने गुर्गे-मुर्गे को सौपेंगे, ताकि बिहार में फिर से अपहरण और लूटपाट का उद्योग शुरू हो जाए. बिहार के लोगों ने 15 साल तक लूटमार, अपहरण देखा है. अब ऐसी सरकार बिहार के लोगों को नहीं चाहिए. बिहार में चुनाव की तिथि नजदीक आने के साथ ही बयानों का दौर लगातार जारी है और इस कड़ी में राजनेता रोजाना आरोप-प्रत्यारोप की राजनीति कर रहे हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज