लाइव टीवी

पूर्णिया के इस किसान की खेती का अनोखा तरीका देख सीएम नीतीश कुमार भी हुए हैरान

KUMAR PRAVIN | News18 Bihar
Updated: November 18, 2019, 9:15 PM IST
पूर्णिया के इस किसान की खेती का अनोखा तरीका देख सीएम नीतीश कुमार भी हुए हैरान
पूर्णिया में जैविक विधि से नारंगी और पपीते की मिश्रित खेती करते हैं किसान विनोद मंडल.

पूर्णिया (Purnia) में नारंगी और पपीता की मिश्रित खेती (Orange-Papaya farming) कर किसान विनोद मंडल ने पेश की नजीर. एक एकड़ खेत में दोनों फसलों से एक लाख रुपए तक की हो रही कमाई. जैविक खेती (Organic Farming) का तरीका देख मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) भी हुए प्रभावित.

  • Share this:
पूर्णिया. जिले के रूपौली प्रखंड (Rupauli Block) का तीनटंगा गांव, यहां के किसान विनोद मंडल (Farmer Vinod Mandal) की वजह से चर्चा में रहता है. विनोद मंडल जैविक खेती करते हैं. उनके खेत में पूर्णिया (Purnia) और आसपास के इलाकों में पाया जाने वाला फसलों के अलावा नारंगी या संतरे के साथ पपीता (Orange-Papaya farming) भी उपजता है. महाराष्ट्र (Maharashtra) के नागपुर से नारंगी का बीज लाकर विनोद ने पूर्णिया के माहौल के अनुरूप उसमें बदलाव किया. इसके बाद पपीते के साथ नारंगी की मिश्रित खेती शुरू कर दी. आज विनोद महज एक एकड़ खेत में नारंगी और पपीते की मिश्रित खेती से एक लाख रुपए तक कमा लेते हैं. उनकी जैविक विधि वाली खेती देख मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) भी काफी प्रभावित हुए थे.

5 साल से कर रहे हैं जैविक खेती
विनोद मंडल ने बताया कि वे पिछले 5 साल से जैविक खेती कर रहे हैं. उन्होंने बताया कि महाराष्ट्र से नारंगी का बीज लाने के बाद विनोद ने इसे पूर्णिया के वातावरण के अनुरूप बनाया. इसके बाद पपीते के साथ नारंगी की मिश्रित खेती करने की योजना बनाई. एक एकड़ खेत में इन दोनों फसलों से आज विनोद की कमाई एक लाख से अधिक तक पहुंच गई है. उन्होंने बताया कि जैविक विधि से खेती करने के कारण पपीता या नारंगी का फल अच्छा होता है. यह खाने में स्वादिष्ट और पोषक तत्वों से भरपूर होता है.

विकास मेले में सीएम ने की तारीफ

किसान विनोद मंडल ने बताया कि बीते 15 नवंबर को टीकापट्टी गांधी सदन में उन्होंने जैविक खेती से उपजे नारंगी और पपीते की प्रदर्शनी लगाई थी. इसमें मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी आए थे. सीएम ने मेले में लगे सभी स्टॉल के निरीक्षण के दौरान विनोद की फसलों को भी देखा और उससे जैविक खेती के बारे में जानकारी ली. विनोद मंडल ने बताया कि मिश्रित खेती का तरीका जानकर सीएम काफी प्रभावित हुए थे. जिला कृषि पदाधिकारी सुरेन्द्र कुमार ने कहा कि विनोद मंडल की पहल के बाद अब इस इलाके में भी किसान नारंगी और पपीता की मिश्रित खेती कर अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं. उन्होंने कहा कि पूर्णिया और आसपास के क्षेत्र में मिश्रित खेती को बढ़ावा देने के लिए सरकार हरसंभव मदद करेगी.

ये भी पढ़ें -

अवैध संबंध का आरोप लगाकर पंचायत ने महिला और युवक को पीटा, जबरन वसूला 11 हजार जुर्माना
Loading...

धर्मशाला नहीं है हिंदुस्तान, देशहित में NRC लागू करना जरूरी: गिरिराज सिंह

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पूर्णिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 18, 2019, 9:15 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...