पूर्व आरजेडी नेता शक्ति मलिक हत्याकांड: पत्नी ने सुरक्षा की मांग की, बताया जान का खतरा

दलित नेता की पत्नी ने परिवार की सुरक्षा को लेकर प्रशासन से गुहार लगाई है.
दलित नेता की पत्नी ने परिवार की सुरक्षा को लेकर प्रशासन से गुहार लगाई है.

मृतक की पत्नी खुशबू देवी ने कहा कि जिस तरह घर में घुसकर अपराधियों ने उनके सामने उनके पति की गोली मारकर हत्या (Murder) कर दी. ऐसे में उनकी और उनके बच्चे की भी हत्या हो सकती है.

  • Share this:
पूर्णिया. राजद के पूर्व प्रदेश सचिव शक्ति मलिक (Shakti Malik) की हत्या (Murder) का मामला काफी तूल पकड़ चुका है. मृतक की पत्नी ने इस मामले में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव (Tejaswi Yadav), तेज प्रताप यादव (Tej Pratap Yadav) समेत 6 राजद नेताओं पर हत्या और टिकट के नाम पर 50 लाख रुपया मांगने का आरोप लगाया है. मृतक की पत्नी अब अपनी जान का खतरा बताते हुए सुरक्षा की मांग की है. वही भाजपा विधायक परिजनों को सुरक्षा का आश्वासन दिया है. जबकि स्थानीय राजद नेता सारे आरोपों को बेबुनियाद और राजनीतिक साजिश बता रहे हैं.

घर में पूर्व राजद नेता की कर दी गई हत्या

पूर्णिया के खजांची थाना इलाके में रविवार सुबह तीन अपराधियों ने घर में घुसकर दलित नेता व राजद के पूर्व प्रदेश सचिव शक्ति मलिक की गोली मारकर हत्या कर दी. मृतक की पत्नी खुशबू देवी के बयान पर खजांची हाट थाने में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव, तेज प्रताप यादव, रानीगंज के जिला परिषद सदस्य कालो पासवान, राजद एससी-एसटी मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष अनिल कुमार साधु, सुनिता देवी, व मनोज पासवान के खिलाफ कांड संख्या 541-20 के तहत हत्या व एससी-एसटी एक्ट के तहत प्राथमिकी दर्ज कराई गयी है.



सुरक्षा की मांग
मृतक की पत्नी खुशबू देवी ने कहा कि इतने हाई सिक्युरिटी जोन में जिस तरह घर में घुसकर तीन नकाबपोश अपराधियों ने उनके सामने उनके पति को गोली मारकर हत्या कर दी, ऐसे में उनकी और उनके बच्चे की भी हत्या हो सकती है. उन्होंने प्रशासन से सुरक्षा देने की मांग की है.

उन्होंने कहा कि उनके पति शक्ति मलिक रानीगंज से चुनाव लड़ना चाह रहे थे. तेजस्वी यादव ने उनसे टिकट देने के नाम पर 50 लाख रुपये की मांग की थी. उन्होंने धमकी दी थी कि जान से मरवा देंगे. उन्हीं लोगों ने मेरे पति की हत्या करवाई है.

बीजेपी विधायक ने दिया सुरक्षा का भरोसा

पत्नी ने कहा कि बीजेपी के सदर विधायक विजय खेमका उनसे मिलने आये थे, जिन्होंने परिवार की सुरक्षा का आश्वासन दिया है. विजय खेमका ने कहा कि इस मामले में परिजनों ने कुछ बड़े नेताओं के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई है. पुलिस अपना काम कर रही है. उन्होंने कहा कि मृतक की पत्नी ने सुरक्षा की मांग की है. इस बाबत एसपी से बात की जायेगी.

तेजस्वी और तेजप्रताप समेत 6 पर केस दर्ज 

वहीं राजद नेताओं ने तेजस्वी और तेजप्रताप समेत 6 नेताओं पर शक्ति मलिक की हत्या की प्राथमिकी दर्ज कराने की बात को राजनीतिक साजिश बताया. राजद युवा मोर्चा के अध्यक्ष शैलेष कुमार उर्फ बुलो मंडल ने कहा कि ये सब राजनीतिक साजिश है. पुलिस जांच कर रही है. दूध का दूध और पानी का पानी हो जायेगा.

राजद जिला अध्यक्ष मिथलेश दास ने कहा कि शक्ति मलिक को गलत आचरण के कारण पार्टी से निष्काषित किया गया था. इसलिए परिवारवाले बेबुनियाद आरोप लगा रहे हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज