Home /News /bihar /

बिहारः रक्षाबंधन में ट्रेंड कर रही जीविका दीदियों की राखी, PM मोदी भी कर चुके हैं तारीफ

बिहारः रक्षाबंधन में ट्रेंड कर रही जीविका दीदियों की राखी, PM मोदी भी कर चुके हैं तारीफ

बिहार के पूर्णिया में राखियों का निर्माण करतीं जीविका दीदियां

बिहार के पूर्णिया में राखियों का निर्माण करतीं जीविका दीदियां

Rakshabandhan 2021: बिहार के पूर्णिया में पिछले साल कोरोना के दौरान जीविका से जुड़ी महिलाओं ने 2100 राखियां बनाई थी जिससे उन्हें कोरोना की मुश्किल घड़ी में 40 हजार रुपए की आमदनी हुई थी. इस बार ज़िले में 951 जीविका दीदियां अलग-अलग कामों में लगी हैं.

अधिक पढ़ें ...

पूर्णिया. बिहार के पूर्णिया की दर्जनों जीविका दीदियां (JEEVIKA) इन दिनों मलवरी की खेती कर अपने हाथों से बेकार पड़े खराब कोकून से रेशम का धागा निकालकर आकर्षक राखियां बना रही है. इससे उन्हें रोजगार मिल रहा है.

दीदी रीना कुमारी ने कहा कि पहले वो लोग खराब हो चुके कोकून को बेकार समझकर फेंक देते थे लेकिन पिछले साल पटना के सरस मेला में उन लोगों ने देखा कि कुछ लोग किस तरह बेकार पड़ी चीजों का इस्तेमाल कर अच्छे हेंडीक्राफ्ट बना रहे हैं. इसके लिए उन लोगों ने प्रशिक्षण लिया. पिछले साल कोरोना के समय उन्होंने अपने परिवार के साथ मिलकर 2100 राखी बनाई जिससे उन्हें कोरोना की मुश्किल घड़ी में 40 हजार रुपए की आमदनी हुई थी.

इस बार धमदाहा के पांच समूह की 40 जीविका दीदीयों ने मीटिंग कर राखी बनाने का काम शुरू किया . इस साल लक्ष्य है कि पचास हजार राखियां बनाएंगी. एक राखी 15 रुपए से 50 रुपए तक बिकती है, जीविका दीदी लक्ष्मी देवी और उमा देवी कहती हैं कि आकर्षक राखियों की मांग पटना, गया समेत कई जिलों में होती है. मलवरी सलाहकार अशोक मेहता कहते हैं कि जिले में 951 जीविका दीदियां अलग-अलग कामों में लगी हैं. इसमें धमदाहा की चार और जलालगढ़ की एक जीविका समूह रेशम की राखी बनाती हैं. बाजार में इन राखियों की काफी मांग है.

पूर्णिया के डीएम राहुल कुमार ने बताया कि पूर्णिया की जीविका दीदियां अच्छा काम कर रही है. धमदाहा की आदर्श मलवरी उत्पादक जीविका समूह की जीविका दीदियों की प्रशंसा पिछले साल प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भी की थी. उन्होंने कहा कि धमदाहा की कई जीविका दीदियां जहां रेशम की राखी के अलावे साड़ी समेत कई चीजें बना रही हैं वहीं कुछ जीविका दीदियां मक्का उत्पादन और मक्का से सामग्री बनाकर आर्थिक उपार्जन कर रही हैं.

Tags: Bihar News, Purnia news, Rakshabandhan festival

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर