लाइव टीवी

बिहार: इसी जगह पर भगवान नरसिंह ने अवतार लेकर किया था हिरण्यकश्यप का वध, जानें क्या है धार्मिक मान्यता
Purnia News in Hindi

News18 Bihar
Updated: March 6, 2020, 3:24 PM IST
बिहार: इसी जगह पर भगवान नरसिंह ने अवतार लेकर किया था हिरण्यकश्यप का वध, जानें क्या है धार्मिक मान्यता
बिहार के बनमनखी में होलिका दहन महोत्सव की तैयारी

मान्यता है कि बनमनखी के सिकलीगढ़ धरहरा (Sikligarh Dharahara of Banmankhi) में होलिका ने भक्त प्रहलाद को आग में जलाकर मारने का प्रयास किया था, लेकिन भगवान विष्णु की कृपा से होलिका, जिन्हें वरदान था कि वह आग में नहीं जलेगी, उसी की जलकर मौत हो गयी थी और प्रहलाद सुरक्षित बच गये थे.

  • Share this:
पूर्णिया. बनमनखी में होलिका दहन महोत्सव (Holika Dahan Festival) धूमधाम से राजकीय महोत्सव के रूप में मनाया जाता है. मान्यता है कि इसी जगह से होलिकादहन की शुरुआत हुई है. बताया जाता है कि बनमनखी के सिकलीगढ़ धरहरा (Sikligarh Dharahara of Banmankhi) में भगवान नरसिंह (Lord Narasimha) ने अवतार लेकर राक्षस राज हिरण्यकश्यप का वध किया था और भक्त प्रहलाद (Bhakt Prahlada) की रक्षा की थी. पूर्णिया के बनमनखी में स्थित सिकलीगढ धरहरा कई मायनों में ऐतिहासिक औऱ खास रहा है. यहां पर वह खंभा आज भी मौजूद है जिसके बारे में धारणा है कि इसी पत्थर के खंभे से भगवान नरसिंह ने अवतार लेकर हिरण्यकश्यप का वध किया था.


सुरक्षित बच गए थे भक्त प्रहलाद

मान्यता है कि बनमनखी के सिकलीगढ़ धरहरा (Sikligarh Dharahara of Banmankhi) में होलिका ने भक्त प्रहलाद को आग में जलाकर मारने का प्रयास किया था, लेकिन भगवान विष्णु की कृपा से होलिका, जिन्हें वरदान था कि वह आग में नहीं जलेगी, उसी की जलकर मौत हो गयी थी और प्रहलाद सुरक्षित बच गये थे.



यहीं हुआ था हिरण्यकश्यप का वध
मंदिर के पुजारी लक्ष्मण ऋषि कहते हैं कि उसी समय से पूरे देश में होलिका दहन त्योहार मनाया जाता है. उन्होंने कहा कि यहां हर साल भव्य तरीके से होलिका दहन मनाया जाता है. पुजारी ने कहा कि इसी जगह भगवान नरसिंह का अवतार हुआ था औऱ उसने हिरण्यकश्यप का वध किया था.



विकास कार्य की मांग
यहां पर दूर-दूर से श्रद्धालु दर्शन और पूजा अर्चना के लिये आते हैं. श्रद्धालु पिंकू कुमार और राजेश मंडल कहते हैं कि उनलोगों को इस देवस्थल पर काफी आस्था है.  वे लोग काफी दूर से यहां पूजा के लिये आये हैं. राजेश मंडल ने कहा कि इस देवस्थल की महत्ता को देखते हुये इसका विकास होना चाहिये.

नरसिंह भागवान ने अवतार लेकर हिरण्यकश्यप का वध किया था.


मंत्री ने कही ये बात
बनमनखी के सिकलीगढ धरहरा में इसबार भी भव्य होलिकादहन समारोह की तैयारी शुरु हो चुकी है. सूबे के पर्यटन मंत्री व बनमनखी के विधायक कृष्ण कुमार ऋषि कहते हैं कि पिछले तीन सालों से इस जगह राजकीय महोत्सव के रुप में होलिका दहन किया जाता है. उन्होंने कहा कि नरसिंह अवतार मंदिर को पर्यटन स्थल बनाया जा रहा है. आनेवाले दिनों में इसका और अधिक विकास होगा.

बता दें कि बनमनखी की धरती शुरु से ऐतिहासिक औऱ धार्मिक रुप से समृद्ध रही है. यहां की नरसिंह अवतार मंदिर और धीमेश्वर महादेव मंदिर राज्यभर में प्रसिद्ध है. बहरहाल पर्यटन मंत्री ने इसे पर्यटन स्थल बनाने का दावा तो किया है लेकिन देखना है कि इस स्थल का कबतक विकास हो पाता है.

ये भी पढ़ें


बिहार में पकड़ा गया घोटालों का दोषी चूहा! RJD ने की सदन में पेश करने की मांग, जानें पूरा माजरा




वेतन वृद्धि के प्रस्ताव को हड़ताली शिक्षकों ने कहा 'लालीपॉप', सरकार बोली- बिहार एक गरीब राज्य, नहीं दे सकते वेतनमान

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पूर्णिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 6, 2020, 3:20 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading