पांच साल की मासूम की हत्या कर शव बोरे में बंद फेंका, 5 दिन से लापता थी बच्ची

बिहार के पूर्णिया में एक दिलदहला देने वाला मामला सामने आया है, जहां पांच साल की एक मासूम बच्ची की हत्या कर उसके शव को बोरे में बंद कर स्कूल के पीछे फेंक दिया. जब बोरे से दुर्गंध आने लगी तो लोगों ने जाकर देखा तो बोरे में बच्ची का शव था.

News18 Bihar
Updated: May 17, 2019, 10:24 PM IST
पांच साल की मासूम की हत्या कर शव बोरे में बंद फेंका, 5 दिन से लापता थी बच्ची
बिहार के पूर्णिया में एक दिलदहला देने वाला मामला सामने आया है, जहां पांच साल की एक मासूम बच्ची की हत्या कर उसके शव को बोरे में बंद कर स्कूल के पीछे फेंक दिया. जब बोरे से दुर्गंध आने लगी तो लोगों ने जाकर देखा तो बोरे में बच्ची का शव था.
News18 Bihar
Updated: May 17, 2019, 10:24 PM IST
बिहार के पूर्णिया में एक दिलदहला देने वाला मामला सामने आया है, जहां पांच साल की एक मासूम बच्ची की हत्या कर उसके शव को बोरे में बंद कर स्कूल के पीछे फेंक दिया. जब बोरे से दुर्गंध आने लगी तो लोगों ने जाकर देखा तो बोरे में बच्ची का शव था. ग्रामीणों ने इसकी सूचना पुलिस को दी. मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है.

मिली जानकारी के मुताबिक, घटना पूर्णिया के रघुवंश नगर ओपी के ओरलाहा गांव की है. बच्ची कोमल कुमारी पिछले 5 दिन से लापता थी. गुरुवार को परिजनों ने काफी खोजबीन के बाद रघुवंश नगर थाने में बच्ची के गायब होने की शिकायत दर्ज कराई थी. मृतका बच्ची के पिता अनिल मंडल की मानें तो 5 दिन पहले बच्ची कोमल अपनी मां के साथ मकई के खेत में गई थी. खेत से लौटते वक्त बच्ची अचानक गायब हो गई थी. तभी से वे लोग बच्ची को खोजने में लगे थे. लेकिन बच्ची का कुछ पता नहीं चला.

शुक्रवार की शाम लगभग 5:00 बजे स्कूल के पीछे से दुर्गंध आने पर लोगों ने देखा कि बोरे में बच्ची का शव है. इसकी सूचना लोगों ने रघुवंश नगर ओपी पुलिस को दी. सूचना मिलते ही रघुवंश नगर और बड़हरा के थाना प्रभारी व धमदाहा के इंस्पेक्टर भाई भरत मौके पर पहुंचे और तफ्तीश में जुट गए. वहीं कुछ ग्रामीणों की मानें तो बच्ची के साथ दुष्कर्म कर उसकी हत्या की गई है. हालांकि परिजनों ने किसी पर किसी तरह की आशंका जताने से इनकार कर दिया.

रघुवंश नगर थाना प्रभारी चंदन ठाकुर ने कहा कि आज बच्ची की गुमशुदगी की लिखित शिकायत परिजनों के द्वारा मिली थी. घटना की जांच की जा रही थी कि तभी सूचना मिला कि मृतक के घर से महज 100 मीटर की दूरी पर बोरे में बंद कर शव फेंका हुआ है. पोस्टमार्टम के बाद ही कुछ कहा जा सकता है. प्रथम दृष्टया लगता है कि किसी दूसरी जगह हत्या कर बच्ची के शव को बोरे में बंदकर स्कूल के पीछे फेंका गया है. मामले की जांच पूरी होने पर सच सबके सामने आएगा.

(रिपोर्ट- प्रवीण कुमार)

ये भी पढ़ें--

चुनाव मैदान में है पति-पत्नी का यह जोड़ा, क्या संसद में मिलेगी एक साथ एंट्री?
Loading...

लोकसभा चुनाव: BJP नेता ने विपक्ष पर साधा निशाना, SP-BSP को बताया देश का कोढ़

आखिर किसकी है मशहूर 'चूर चूर नान'? हाईकोर्ट पहुंचा मामला

Exclusive: सरकार बनाने का ये है कांग्रेस का मास्टर प्लान!

टिकट नहीं दिए जाने पर सिद्धू बोले- मेरी पत्नी झूठ नहीं बोलती

यहां हर नई दुल्हन को देना होता है ये टेस्ट, विरोध करने वाले परिवार को मिलती है सजा

शादी के मंडप में ही बीवी ने की दूल्हे की पिटाई, पढ़ें- पूरा मामला

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...

वोट करने के लिए संकल्प लें

बेहतर कल के लिए#AajSawaroApnaKal
  • मैं News18 से ई-मेल पाने के लिए सहमति देता हूं

  • मैं इस साल के चुनाव में मतदान करने का वचन देता हूं, चाहे जो भी हो

    Please check above checkbox.

  • SUBMIT

संकल्प लेने के लिए धन्यवाद

जिम्मेदारी दिखाएं क्योंकि
आपका एक वोट बदलाव ला सकता है

ज्यादा जानकारी के लिए अपना अपना ईमेल चेक करें

डिस्क्लेमरः

HDFC की ओर से जनहित में जारी HDFC लाइफ इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड (पूर्व में HDFC स्टैंडर्ड लाइफ इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड). CIN: L65110MH2000PLC128245, IRDAI R­­­­eg. No. 101. कंपनी के नाम/दस्तावेज/लोगो में 'HDFC' नाम हाउसिंग डेवलपमेंट फाइनेंस कॉर्पोरेशन लिमिटेड (HDFC Ltd) को दर्शाता है और HDFC लाइफ द्वारा HDFC लिमिटेड के साथ एक समझौते के तहत उपयोग किया जाता है.
ARN EU/04/19/13626

News18 चुनाव टूलबार

  • 30
  • 24
  • 60
  • 60
चुनाव टूलबार