पूर्णिया कांड: बिहार पुलिस की बड़ी कार्रवाई, गिरफ्तार हुए 6 और आरोपी, छापेमारी जारी

 पूर्णिया कांड की तफ्तीश कर रही पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी.

पूर्णिया कांड की तफ्तीश कर रही पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी.

बिहार के पूर्णिया कांड (Purnia Case)  की जांच कर रही पुलिस ने एक बार फिर 6 आरोपियों को गिरफ्तार किया है. अब तक कुल 11 आरोपी  हिरासत में लिए गए है. 

  • Share this:

पूर्णिया. बिहार के पूर्णिया (Purnia) के बायसी थाना के बहुचर्चित मझुवा कांड में पुलिस ने बड़ी कार्रवाई की है. पुलिस ने बुधवार को फिर से 6 नामजद आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है.  इस जघन्य कांड में अब तक कुल 11 आरोपी की गिरफ्तारी हो चुकी है. SP दयाशंकर ने बताया कि इस घटना में पहले 2 लोगों की गिरफ्तारी हुुई थी. उसके बाद तीन अन्य आरोपी की गिरफ्तारी हुई थी. आज फिर 6 नामजद आरोपी की गिरफ्तारी हो चुकी है .अब तक कुल 11 आरोपी  हिरासत में लिए गए है.

एसपी ने कहा कि इस मामले में छापामारी के लिए पुलिस की टीम गठित की गई हैैैैैै . टीम द्वारा लगातार छापामारी की जा रही है. अभी तक जो गिरफ्तारी हुई है यह सभी नामजद अभियुक्त हैं. इसमें तीन मुख्य अभियुक्त भी है जिन्हें पुलिस गिरफ्तार कर चुकी है. हालांकि मुख्य अभियुक्तअभी भी फरार है . उसकी गिरफ्तारी के लिए भी पुलिस लगातार छापामारी कर रही है.  SP ने बताया कि इस मामले में तीन अलग-अलग प्राथमिकी दर्ज की गई थी जिसमें 60 नामजद और 100 से अज्ञात लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई गई  थी.

बाकि आरोपियों की जल्द होगी गिरफ्तारी

SP दयाशंकर ने कहा कि अन्य आरोपियों की भी गिरफ्तारी जल्द कर ली जाएगी. दरअसल पूर्णिया के मझुुवा में 19 मई की रात करीब 11:00 बजे एक समुदाय के करीब 300 लोगों की हिंसक भीड़ ने हाथों मेंं पेट्रोल और हथियार लेकर महादलित बस्ती पर हमला कर दिया था. इस दौरान हिंसक भीड़ ने पेट्रोल छिड़ककर 13 महादलित परिवारों के आशियाने को जला दिया था. जबकि एक रिटायर्ड चौकीदार नेवालाल की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई थी. मौके पर तैनात बायसी थाना के चौकीदार दिनेश कुमार को भी पीट कर घायल कर दिया था . इसके अलावा कई महिलाओं और बच्चों की भी जमकर पिटाई की गई थी. गर्भवती महिलाा तक को भी नहीं बख्शा गया था.
महिलाओं के इज्जत आबरू के साथ खिलवाड़ करने का प्रयास किया गया था और उन्हें बेरहमी से मारा पीटा गया था. इस घटना ने पूरे देश को हिला दिया था . घटना के बाद से राजनीति भी काफी तेज हो गई है. सभी नेताओं ने इस घटना के लिए स्थानीय पुलिस को ही जिम्मेदार ठहराया था. इसके बाद एसपी दयाशंकर ने बायसी थानाा के प्रभारी थानाअध्यक्ष अमित कुमार को निलंबित कर उन्हें लाइन हाजिर कर दिया था. उनकी जगह धमदाहा के अंचल इंस्पेक्टर सुनील कुमार सुमन को बायसी का थाना प्रभारी बनाया गया.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज