पूर्णिया कांड: गिरिराज सिंह बोले, जहां घटना घटी वहां व‍िधायक ओवैसी की पार्टी का

ब‍िहार के पूर्णिया में 19 मई को महादलितों के साथ हुई दरिंदगी की घटना पर केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह क्‍या बोले

Bihar News: पूर्णिया कांड पर भाजपा के सांसद ग‍िर‍िराज स‍िंह ने कहा क‍ि स्पीडी ट्रायल कर दोषियों पर कार्रवाई हो, जितने लोग इसमें शामिल हैं उनका उद्भेदन कीजिए और मैं लॉकडाउन के बाद इस मसले पर बोलूंगा.

  • Share this:
ब‍िहार के पूर्णिया के बायसी थाना के मझवा गांव में 19 मई को महादलितों के साथ हुई दरिंदगी की घटना पर केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा है क‍ि पूर्णिया और किशनगंज से लेकर पश्चिम बंगाल-असम तक ये चिकेन नेक की बात करते हैं. शरजील इमाम ने कहा था चिकेन नेक काट देंगे और ये बहुत बड़ी घटना है. अगर मुसलमानों के साथ इस तरह अत्याचार हो गया होता तो राहुल गांधी जैसे लोग पहुंच जाते. उन्नाव पर राहुल गांधी पॉल‍िट‍िकल टूरिज़्म करते हैं, लेकिन इस पर चुप रहते हैं.

ग‍िर‍िराज स‍िंह ने कहा क‍ि सेक्यूलरिज़म की बात करने वालों के मुंह यह घटना पर तमाचा है. उन्‍होंने आरजेडी के रोल पर कहा क‍ि MY समीकरण पर इनकी पार्टी और राजनीति चलती है. ओवैसी की जीत सामाजिक समरसता के लिए ख़तरा है. उन्‍होंने कहा क‍ि सीमांचल में घुसपैठ के मुद्दे और इस घटना पर कहा क‍ि यह 200 प्रतिशत सही है, जिनको दिखाई नहीं दे रहा, वोट दिखाई दे रहा, ये उनके लिए वोट है. उन्‍होंने कहा क‍ि जिनको नहीं दिखाई देता है उन्हें कभी नहीं दिखाई देगा. दिखाई दे रहा है और इसकी योजना बन रही है. इसलिए मैं राज्य सरकार से कहूंगा क‍ि ऐसी कार्रवाई करें की दोबारा से कोई अपराध के बारे में सोचे नहीं.

उन्‍होंने कहा क‍ि स्पीडी ट्रायल कर दोषियों पर कार्रवाई हो, जितने लोग इसमें शामिल हैं उनका उद्भेदन कीजिए.मैं लॉकडाउन के बाद इस मसले पर बोलूंगा. उन्‍होंने कहा क‍ि ओवैसी की पार्टी मुसलमानों के नाम पर चुनाव लड़ती है और जिन्ना के सिद्धांतों पर चलती है. पांच सीट जीतना बिहार के समाजिक समरसता के लिए दुर्भाग्य है. जहां पूर्णिया में घटना घटी है वहां का व‍िधायक ओवैसी की पार्टी का है और वहां समाजिक सद्भाव टूटना तय था.

गौरतलब है कि मझवा गांव में 19 मई की रात को एक समुदाय विशेष के सैकड़ों लोगों ने महादलितों के 13 घरों में पेट्रोल छिड़ककर आग लगा दी थी. मौके पर मौजूद चौकीदार दिनेश को भी पीटा गया और उनकी बाइक जला दी गई. वहीं महिलाओं के साथ छेड़खानी और मारपीट भी की गई थी.

मामले को लेकर पूर्णिया के डीएम राहुल कुमार ने कहा कि घटना में मारे गए चौकीदार नेवालाल राय के परिजन को चार लाख रुपया मुआवजा दिया गया है. शेष चार लाख राशि चार्जशीट के बाद दी जाएगी. अन्य पीड़ितों को भी सरकारी नियम के अनुसार मुआवजा राशि दी गई है. डीएम ने कहा कि गांव में लोगों के खाने-पीने के लिए भी कम्युनिटी किचन की व्यवस्था की गई है. इसके अलावा पीड़ितों के लिए जमीन चिह्नित कर प्रधानमंत्री आवास बनाने के निर्देश दिए गए हैं. उन्होंने कहा कि फिलहाल स्थिति नियंत्रण में है.