उत्पाद विभाग के हाजत में युवक की संदेहास्पद मौत पर बवाल, परिजनों ने रोड जामकर किया हंगामा

परिजनों का आरोप है कि हाजत में दीपक की हत्या कर दी गई
परिजनों का आरोप है कि हाजत में दीपक की हत्या कर दी गई

उत्पाद विभाग (Excise Department) की टीम ने दीपक सिंह को छह बोतल शराब के साथ गिरफ्तार किया था. रात में ही हाजत में उसकी संदेहास्पद तरीके से मौत हो गई. फंदे से लटका शव मिला.

  • Share this:
पूर्णिया. बिहार के पूर्णिया में उत्पाद विभाग के हाजत में शुक्रवार रात एक  आरोपी (Accused) की संदेहास्पद स्थिति में मौत (Death) हो गई. इस घटना के विरोध में आक्रोशित परिजनों और लोगों ने रोड जामकर हंगामा किया. परिजनों ने खजांची हाट थाने के आस्था मंदिर के पास करीब एक घंटे तक मुख्य मार्ग को जाम रखा. इससे पहले परिजनों ने उत्पाद विभाग के कार्यालय में भी जमकर हंगामा और तोड़फोड़ की.

शराब के साथ पकड़ाया था आरोपी

मृतक के पिता निर्भय सिंह और भाई बमबम सिंह का कहना है कि रात में उत्पाद विभाग की टीम ने दीपक सिंह को छह बोतल शराब के साथ गिरफ्तार किया था. उनको छोड़ने की एवज में उत्पाद विभाग के अधिकारियों ने उनलोगों से 40 हजार रुपये भी लिये. लेकिन रात में ही उत्पाद विभाग के हाजत में दीपक की संदेहास्पद तरीके से मौत हो गई.




परिजनों का आरोप है कि विभाग के कर्मियों ने ही किसी कहने पर दीपक की हत्या कर दी. इसलिए घटना की उच्च स्तरीय जांच होनी चाहिए.

जन अधिकार पार्टी के नेता राजेश यादव ने घटना की निंदा करते हुए कहा कि नीतीश कुमार के राज में खुलेआम शराब बिक रही है. आज इसी का नतीजा है कि हाजत में दीपक की मौत हो गई है.

हंगामे की सूचना पर सदर एसडीपीओ आनंद पांडे, एसडीएम समेत कई थाने की पुलिस उत्पाद विभाग के दफ्तर पहुंची और परिजनों को समझा-बुझाकर मामला शांत कराया. घटना की ज्यूडिशल मजिस्ट्रेट जांच कर रहे हैं.

युवक ने कर ली खुदकुशी- उत्पाद अधीक्षक

उत्पाद अधीक्षक दीनबंधु ने बताया कि रात में मरंगा के एक लाइन होटल के पास से दीपक को छह बोतल शराब के साथ पकड़ा गया था. उसे रात में कस्टडी में रखा गया था. उसके साथ हाजत में एक और लड़का था. रात के करीब दो बजे दूसरे आरोपी ने देखा कि दीपक ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली. मामले की जांच जारी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज