• Home
  • »
  • News
  • »
  • bihar
  • »
  • पूर्णिया: बकाया वेतन की मांग को लेकर धरना-प्रदर्शन कर रहे विश्वविद्यालय के कर्मचारी की हार्ट अटैक से मौत

पूर्णिया: बकाया वेतन की मांग को लेकर धरना-प्रदर्शन कर रहे विश्वविद्यालय के कर्मचारी की हार्ट अटैक से मौत

पूर्णिया विश्वविद्यालय

पूर्णिया विश्वविद्यालय

विवि प्रशासन की ओर से कर्मचारियों के आरोपों को खारिज कर दिया गया है और बताया गया है कि इसी हफ्ते वेतन भुगतान के लिए समझौता और पहल की जा रही थी

  • Share this:
पूर्णिया. बिहार के पूर्णिया विश्वविद्यालय (Purnia University) के पीटीआई (PTI) प्रशिक्षक सोहित मंडल की हार्ट अटैक (Heart Attack) से मौत हो गयी जिसके बाद विश्वविद्यालय कर्मचारी संघ ने सोमवार को ऑफिस खुलते ही मृत कर्मचारी के शव के साथ यूनिवर्सिटी गेट पर जमकर प्रदर्शन किया और अपनी नाराजगी जतायी. विश्वविद्यालय शिक्षकेत्तर कर्मचारी संघ पिछले 15 तारीख से अपने बकाये वेतन की मांग को लेकर नियमित धरना-प्रदर्शन कर रहा है और इस प्रदर्शन का नेतृत्व मृत कर्मचारी सोहित मंडल ही कर रहे थे. कर्मचारियों ने बताया कि बीती रात प्रदर्शन हटाने के लिए मृतक के पास विश्विद्यालय प्रशासन का दबाव आया था और उसके बाद ही उनके साथ घटना घटी.

मृतका की पत्नी सोनी सोहित ने मामले में पुलिस से एफआईआर दर्ज करने की मांग की है. खबर भेजे जाने तक शव के साथ विश्वविद्यालय कर्मियों का प्रदर्शन जारी था. पूर्णिया विवि शिक्षकेत्तर कर्मचारियों के प्रतिनिधि रविराज ने बताया कि सोहित मंडल की नियुक्ति पीटीआई प्रशिक्षक के रुप में वर्ष 2017 में फारबिसगंज कालेज में हुई थी. वो पूर्णिया विवि कर्मचारी संघ के सचिव थे और कर्मचारी हित के लिए लगातार सक्रिय थे. इसी वजह से विश्वविद्यालय प्रशासन उन पर लगातार एकतरफा एक्शन ले रहा था. पिछले साल भर में उन्हे विश्वविद्यालय ने तीन अलग-अलग जगहों पर प्रतिनियुक्त कर परेशान करने की कोशिश की.

पिछले 15 जून से पूर्णिया विवि में चल रहे कर्मचारियों के वेतन भुगतान मामले के आंदोलन में मृत कर्मचारी काफी सक्रिय थे और हर दिन धरना पर बैठ रहे थे. मृत कर्मचारी की पत्नी सहित दो बच्चे हैं और उनकी उम्र महज 40 से 45 साल के बीच ही थी. इधर विवि प्रशासन की ओर से कर्मचारियों के आरोपों को खारिज कर दिया गया है और बताया गया है कि इसी हफ्ते वेतन भुगतान के लिए समझौता और पहल की जा रही थी. पूर्णिया विवि शिक्षक संघ लगातार कर्मियों के आंदोलन का समर्थन कर रहा था और आज की घटना पर भी शिक्षकों ने विवि प्रशासन को ही दोषी ठहराया है.

फिलहाल कर्मचारी की मौत के बाद पूर्णिया विश्वविद्यालय में कार्य संस्कृति और वेतन भुगतान जैसे काम के लिए आंदोलन की स्थिति बनने की बात को लेकर जहां तरह तरह के चर्चे और सवाल खडे हो गये हैं वहीं यह बात अब पुलिस जांच के बाद ही साफ होगी कि बीती रात मृतक कर्मचारी के हर्ट अटैक के पीछे की सच्चाई क्या है. पूर्णिया विवि की स्थापना के बाद से ही यहां मौजूदा कुलपति के साथ शिक्षक संघ, शिक्षकेत्तर कर्मचारी संघ लगातार कई बातों को लेकर आमने सामने रहे हैं.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज