• Home
  • »
  • News
  • »
  • bihar
  • »
  • सुशांत की मौत के बाद से नहीं जला पूरे गांव का चूल्हा, चाची बोलीं- कौन कराएगा चार धाम की यात्रा

सुशांत की मौत के बाद से नहीं जला पूरे गांव का चूल्हा, चाची बोलीं- कौन कराएगा चार धाम की यात्रा

सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद रोता बिलखता उनका परिवार

सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद रोता बिलखता उनका परिवार

सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की चाची ने बताया कि वो मजबूत इच्छाशक्ति वाला युवक था. उसने ऐसा कैसे कर लिया सोच कर दिल बोझिल हो जाता है.

  • Share this:
    पूर्णिया. बॉलीवुड के चर्चित अभिनेता और पूर्णिया के लाल मल्डीहा निवासी सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की मौत से गांव में गहरा शोक व्याप्त है. रविवार को जैसे ही सुशांत सिंह राजपूत के आत्महत्या करने की सूचना उनके पैतृक गांव में पहुंची उसके बाद से गांव में चूल्हा तक नहीं जला है. सुशांत के चचेरे भाई संतोष सिंह ने बताया कि गांव के सभी लोग उनके मौत की सूचना से गमगीन हैं.

    गांव में रात में चूल्हा भी नहीं जला है. पिछले साल जब सुशांत गांव आए थे तो उस समय सभी युवा दोस्तों के साथ उन्होंने क्रिकेट खेला था और बाग-बगीचे और मकई के खेतों का जमकर आनंद उठाया था. आज भी लोग उनके उस दिन को याद कर रो रहे हैं. मलडीहा में ही सुशांत सिंह के चचेरे भाई पन्ना सिंह और चाची पद्मा देवी भी सुशांत के इस कदम से सदमे मे है.

    भाई बोले- वो आत्महत्या नहीं कर सकता

    सुशांत के भाई पन्ना सिंह ने कहा कि सुशांत आत्महत्या नहीं कर सकता है. जरूर इसके पीछे कुछ साजिश है. उन्होंने सुशांत के मौत की घटना को साजिश बताते हुए कहा कि इसकी सीबीआई जांच होनी चाहिए. उन्होंने कहा कि पिछले साल 12 मई को सुशांत राजपूत अपने गांव मलडीहा आए थे. यहां वह अपने परिजनों के साथ एक दिन रुके थे. इसके बाद 13 मई को खगड़िया अपने नाना जी के घर चले गए थे, जहां उनका मुंडन संस्कार हुआ था.

    sushant rajput in kedarnath, केदारनाथ फ़िल्म की शूटिंग के दौरान वहां पुलिस चौकी इंचार्ज रहे बिपिन चंद्र पाठक सुशांत सिंह को बेहद सहज, ज़मीन से जुड़े व्यक्ति और क्रिकेट प्रेमी के रूप में याद करते हैं.
    केदारनाथ फ़िल्म की शूटिंग के दौरान सुशांत


    चाची से किया था चार धाम ले जाने का वादा

    सुशांत की चाची ने बताया कि वो मजबूत इच्छाशक्ति वाला युवक था. उसने ऐसा कैसे कर लिया सोच कर दिल बोझिल हो जाता है. वो हर किसी का दिल जीत लेता था और हमेशा हंसता और मुस्कुराता ही रहता था. सुशांत की चाची पद्मा देवी के मुताबिक गुलशन उर्फ सुशांत ने अगले साल घर आने का भी वादा किया था. उसने मुझसे कहा था कि मैं आपको हवाई जहाज से चारों धाम की यात्रा करवाऊंगा.

    नवंबर में होनी थी शादी 

    अपने घर के चिराग की मौत से पूरा परिवार रो रहा है. सुशांत की चाची रोते हुए कहती हैं, अब कौन चारों धाम की यात्रा पर ले जाएगा. सुशांत के घरवालों के मुताबिक नवंबर में ही सुशांत की शादी होनी थी और उसमें शामिल होने के लिए ही सभी को मुंबई भी जाना था लेकिन होनी को पता नहीं क्या मंजूर था. सबको साथ लेकर मुंबई ले जाने वाला गुलशन अकेले ही हमें छोड़कर निकल गया.

    ये भी पढ़ें- Bihar Live Update: भाई के साथ मुंबई पहुंचे सुशांत सिंह राजपूत के पिता, पवन हंस घाट पर होगा अंतिम संस्कार

    ये भी पढ़ें- 18 साल पहले मां की मौत से टूट गए थे सुशांत सिंह राजपूत, फिर खुद को संभाला और बन गए बॉलीवुड के स्टार

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज