अपना शहर चुनें

States

RJD नेता तेजस्वी यादव ने किया 'किसान जागरुक सप्ताह' का ऐलान, बजट सत्र पर नीतीश सरकार को घेरा

तेजस्वी यादव ने नीतीश सरकार पर बड़ा आरोप लगाया है. (फाइल फोटो)
तेजस्वी यादव ने नीतीश सरकार पर बड़ा आरोप लगाया है. (फाइल फोटो)

Patna News: नीतीश सरकार (Nitish Government) पर आरोप लगाते हुए तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) ने कहा कि बजट सत्र को 2-3 दिन कम करने की साजिश की जा रही थी. हमारे हस्तक्षेप के बाद फैसला बदला गया.

  • Share this:
पटना. केंद्र सरकार के कृषि कानून के खिलाफ चल रहे किसानों के आंदोलन के बीच आरजेडी (RJD) नेता तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) ने बड़ा बयान दिया है. पटना में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने कहा कि 24 जनवरी से 30 जनवरी के बीच एक सप्ताह तक चलने वाले 'किसान जागरुक सप्ताह' का जश्न मनाया जाएगा. इस दौरान बिहार के किसानों को तीन कृषि कानूनों (Agriculture Law) के बारे में पार्टी की ओर से जानकारी दी जाएगी और कृषकों को शिक्षित किया जाएगा. किसानों के मुद्दे के साथ ही तेजस्वी ने नीतीश सरकार (Nitish Government) पर भी जमकर निशाना साधा.

सरकार पर बड़ा आरोप लगाते हुए तेजस्वी यादव ने कहा कि बजट सत्र को 2-3 दिन कम करने की साजिश की जा रही थी. लेकिन जब हमने अपने विचार प्रस्तुत किए, तो सरकार को एक कदम पीछे लेना पड़ा. अब सरकार ने सत्र को लगभग 22 दिनों के लिए बढ़ा दिया है.





तेजस्वी को लेकर सियासत तेज
शिक्षक अभ्यर्थियों के साथ नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव  के घूमने और अधिकारियों को फोन करने पर सियासत गरमा गई है. जेडीयू ने तेजस्वी द्वारा अधिकारियों को फोन करने पर हमला करते हुए कहा कि तेजस्वी अभी भी खुद को डिप्टी सीएम समझ रहे हैं. जनता ने चुनाव में नाकार दिया है उस झटके से बाहर नहीं निकल पा रहे है. लालू राज में शिक्षकों को वेतन तक नहीं मिलता था. जेडीयू के प्रधान महासचिव केसी त्यागी ने इस मसले पर कहा कि तेजस्वी यादव के संविदा शिक्षकों के समर्थन में जाने और अधिकारियों से फ़ोन पर बात करने के अंदाज से ऐसा लगता है कि प्री पोल सिंड्रोम के दायरे से बाहर निकलने को तैयार नहीं हो पा रहे हैं. चुनाव नतीजे आ गए हैं. बिहार में नीतीश कुमार की क़द काठी के कोई नेता नहीं है. समानांतर गतिविधियाँ चलाकर तेजस्वी यादव असफल कोशिश कर रहे हैं. यह नेता प्रतिपक्ष की मर्यादा के ख़िलाफ है.

ये भी पढ़ें: Ranchi News: लंग्स ट्रांसप्लांट के बाद चेन्नई से शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो की पहली वर्चुअल PC, कहा- जल्द होगी वापसी

वहीं, जदयू प्रवक्ता राजीव रंजन ने कहा कि जिलाधिकारी के साथ तेजस्वी बर्ताव को शर्मनाक बताते हुए कहा कि लोकतंत्र में खुद को मालिक समझने से मुक्त होना चाहिए. यह व्यवहार ना सिर्फ निंदनीय है बल्कि इसकी निंदा भी करते हैं. तेजस्वी के अंदाज पर बीजेपी ने सवाल उठाते हुए बिहार में अव्यवस्था फैलाने का आरोप लगाया. पार्टी के नेता प्रेम रंजन पटेल ने कहा कि तेजस्वी अधिकारियों को हड़का रहे हैं और बिहार में अव्यवस्था फैलाना चाहते हैं. यह कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज