बिहार: इस गांव में घरों के दरवाजों पर खींची जा रही है लक्ष्मणरेखा ! लिख रहे- प्लीज सर...

रोहतास के मकराइन गांव में युवा कर रहे स्टे होम की अपील

ये युवा घर के दरवाजे पर 'स्टे होम' लिख रहे हैं तथा हर घर के दरवाजे पर जाकर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए लोगों से लॉकडाउन का पालन करने की शपथ दिलवा रहे हैं.

  • Share this:
सासाराम. रोहतास जिला में कोरोना (Corona) में बहुत तेजी से कोरोना अपना पांव पसार रहा है. 22 अप्रैल को यहां पहला मामला निकला था और अब यह दो मई की सुबह 10 बजे तक 52 तक पहुंच गया था. यही वजह है को केंद्र सरकार ने रोहतास (Rohtas) को रेड जोन में रखा है और यहां लॉकडाउन (Lockdown) का सख्ती से पालन करवाया जा रहा है. पुलिस की सख्ती अपनी जगह तो है ही, लेकिन कुछ  कोरोना योद्धा भी इस काम में लगे हैं और  लगातार लोगों के बीच जाकर जागरूकता फैलाने का काम कर रहे हैं.  रोहतास के डेहरी के 'मकराइन' के कुछ युवा सोशल डिस्टेंसिंग (Social Distancing) का पालन करते हुए दीवारों पर जागरूकता स्लोगन लिख रहे हैं. अब तक पूरे मकराइन इलाके में 150 से अधिक दीवारों पर स्लोगन लिख चुके हैं. इतना ही नहीं ये युवा लोगों के घरों के सामने जाकर उनके दरवाजे पर 'स्टे-होम' तथा सामाजिक दूरी बनाने की लकीरें खींच देते हैं. वहीं लोगों से निवेदन करते हैं कि वह कृपया घरों से नहीं निकलें.

गांव में युवा चला रहे अभियान 

मकरानी इलाके में चलाए जा रहे इस अभियान का नेतृत्व पेशे से इंजीनियर राहुल यादव कर रहे हैं. राहुल पीएम नरेंद्र मोदी के कोरोना को लेकर जारी किए गए सात संकल्पों को जन-जन तक पहुंचाने में लगे हैं. साथ ही वे सभी से शपथ भी दिलवा रहे हैं, कि वे लोग सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करेंगे और विश्व स्वास्थ्य संगठन तथा स्वास्थ्य मंत्रालय के गाइडलाइन के अनुरूप ही चलेंगे. बता दें कि ये युवाओं की टोली पिछले एक महीना से पूरे इलाके में सैनिटाइजेशन, गरीबों की मदद के बाद दीवारों पर स्लोगन लिखने का काम कर रहे हैं.

घरों के दरवाजों पर खींची जा रही लक्ष्मणरेखा

ये युवा डिहरी के मकराइन गांव में हर घर के दरवाजे पर पेंट से एक लक्ष्मण रेखा खींच रहे हैं. वे लोग लोगों से अपने घरों में ही रहने की अपील कर रहे हैं. ये लोग घर के दरवाजे पर 'स्टे होम' लिख रहे हैं तथा हर घर के दरवाजे पर जाकर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए लोगों से लॉकडाउन का पालन करने की शपथ दिलवा रहे हैं.

प्रशासन ने की सराहना

इन युवाओं के अभियान का प्रशासन के लोग भी सराहना कर रहे हैं. डिहरी नगर परिषद के कार्यपालक पदाधिकारी सुशील कुमार का कहना है कि सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए अगर इस तरह के अभियान चलाए जा रहे हैं तो यह प्रशंसनीय है. इतना ही नहीं यह लोग लोगों को जागरूकता संबंधित प्रति भी बांट रहे हैं.

ये भी पढ़ें