Home /News /bihar /

bihar create new record in road construction 38 kilometer road built in just 98 hours bramk

OMG: सड़क निर्माण में बिहार ने बनाया रिकॉर्ड, महज 98 घंटे में बन गई 38 Km रोड

बिहार के रोहतास में सड़क निर्माण के क्षेत्र में नया रिकॉर्ड बना है

बिहार के रोहतास में सड़क निर्माण के क्षेत्र में नया रिकॉर्ड बना है

Bihar Road Construction Record: भारत सरकार के केंद्रीय भू-तल परिवहन विभाग द्वारा पहले से ही 105 घंटे में 75 किलोमीटर सड़क बनाने का विश्व रिकॉर्ड है. बिहार के रोहतास जिले में मात्र 98 घंटे में 38 किलोमीटर सिंगल लेन सड़क का निर्माण कर दिया गया है जो कि अपने आप में एक कीर्तिमान है

अधिक पढ़ें ...

रोहतास. तेज गति से सड़क बनाने में बिहार ने नया कीर्तिमान स्थापित किया है. राष्ट्रीय उच्च पथ  भारतमाला योजना सड़क निर्माण परियोजना के तहत बिहार के रोहतास जिला में ये रिकॉर्ड बना है. रोहतास के कोचस के पड़रिया से कैमूर जिला के मोहनिया तक मात्र 98 घंटे में 38 किलोमीटर सिंगल लेन सड़क का निर्माण कर बिहार ने ये कीर्तिमान स्थापित किया है. मात्र 99 घंटे से कम समय में युद्ध स्तर पर आधुनिक तकनीक से इस सड़क का निर्माण कार्य पूरा किया गया साथ ही पूरे देश को एक मैसेज देने की कोशिश भी की गई है.

बता दे कि भारत सरकार के केंद्रीय भू-तल परिवहन विभाग द्वारा पहले ही 105 घंटे में 75 किलोमीटर सड़क बनाने का विश्व रिकॉर्ड है. बिहार आने वाले दिनों में उक्त रिकॉर्ड को ब्रेक करने की ओर अग्रसर है. रोड निर्माण का कार्य करा रहे ‘अशोका बिल्डकॉन लिमिटेड’ कंपनी के प्रोजेक्ट हेड गणेश कुमार ने बताया कि राष्ट्रीय उच्चपथ संख्या- 319, जिसमें 115 किलोमीटर तक निर्माण का कार्य दो फेज में किया जा रहा है में आरा से कोचस के पड़रिया तक 54 किलोमीटर तथा दूसरा पैकेज फेज में पड़रिया से कैमूर के मोहनिया तक 115 किलोमीटर का निर्माण शामिल है.

तारकोल से कालीकरण के सड़क निर्माण कार्य का एक तरह का पूरे देश में अपना अलग रिकॉर्ड है जो मात्र 98 घंटे में 38 किलोमीटर लंबी कालीकरण पीच सड़क का निर्माण हुआ है. विभागीय अधिकारियों के निरीक्षण के बाद आने वाले अक्टूबर-नवंबर तक बिहार एक नया रिकॉर्ड बनाने की ओर अग्रसर होगा, जिस पर लगातार काम चल रहा है.

Tags: Bihar News

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर