सासाराम के 6 corona मरीज हुए डिस्चार्ज, डॉक्टरों ने ताली बजाकर किया विदा

सासाराम से डिस्चार्ज हुए 6 कोरोना मरीजों के लिये डॉक्टरों ने बजाई तालियां (फाइल फोटो)

सासाराम से डिस्चार्ज हुए 6 कोरोना मरीजों के लिये डॉक्टरों ने बजाई तालियां (फाइल फोटो)

नारायण मेडिकल कॉलेज जमुहार के प्रबंध निदेशक त्रिविक्रम नारायण सिंह का कहना है कि उन्हें अपने अस्पताल (Hospital) की टीम पर पूरा विश्वास था कि वह एक वर्ल्ड क्लास की चिकित्सीय सुविधा मरीजों को देंगे. यही कारण है कि बहुत कम समय में कोरोना के 6 मरीजों को ठीक कर लिया गया.

  • Share this:

रोहतास. विश्वव्यापी महामारी कोरोना (Corona) के बीच बिहार के रोहतास जिले के लिए एक खुशखबरी है. दरअसल, सोमवार को जिले में पाए गए 52 कोरोना पॉजिटिव मरीजों में 6 मरीज ठीक होकर अपने-अपने घर चले गए, जिसके बाद एनएमसीएच, जमुहार के चिकित्सकों ने राहत की सांस ली है. बता दें कि नारायण मेडिकल कॉलेज में 44 मरीजों का इलाज (Treatment) चल रहा था. जिसमें से 6 मरीज स्वस्थ हो गए हैं तथा इन सभी छह मरीजों को उनके उनके घर भेज दिया गया है. अब इस मेडिकल कॉलेज में 38 मरीज बच गए हैं जो इलाजरत हैं. वहीं 8 मरीजों को पहले ही पटना के नालंदा मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल भेजा जा चुका है. सासाराम में भर्ती 44 मरीजों में 6 मरीजों के ठीक होकर डिस्चार्ज होने पर जिला प्रशासन भी राहत महसूस कर रहा है.

22 अप्रैल को मिला था पहला कोरोना पॉजिटिव मरीज

रोहतास जिले में सबसे पहले 22 अप्रैल को कोरोनावायरस संक्रमित मरीज मिला था जिसके बाद एक झड़ी सी लग गई. 10 दिनों के अंदर ही यह संख्या 52 तक पहुंच गई जिसमें छोटे-छोटे बच्चे तथा महिलाएं भी शामिल हैं. सबसे ज्यादा संक्रमित मरीज सासाराम के शहरी इलाके में ही मिले जिसके बाद जिला प्रशासन ने प्रभावित क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन बनाकर काम शुरू किया. पहले कोरोनावायरस पॉजिटिव मरीज के चेन को जब खंगाला गया तो उसके परिवार सहित आसपास के कई लोग संक्रमित मिले. इसमें से ज्यादातर का इलाज सासाराम के ही नारायण मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल जमुहार में चल रहा है.

ठीक हुए सभी 6 मरीज हैं सासाराम के
52 में से ठीक हुए 6 मरीज सासाराम अनुमंडल क्षेत्र के ही हैं, जिसमें अगरेर, खरबनिया, आलमपुर के लोग हैं. ठीक हुए 6 लोगों में दो महिलाएं, एक 6 साल का बच्चा तथा 3 वयस्क पुरुष है. बता दें कि सासाराम का शहरी इलाका सबसे अधिक प्रभावित है. 52 में से 35 लोग नगर परिषद क्षेत्र में ही पॉजिटिव पाए गए हैं. इसके अलावा करगहर, अगरेर, आलमपुर, डिहरी, लड़ुआ, मानी आदि इलाके के भी पॉजिटिव मरीज मिले हैं. आज जितने भी मरीजों को डिस्चार्ज किया गया है वे सभी सासाराम अनुमंडल क्षेत्र के ही हैं.



डॉक्टरों ने ताली बजा कर दी विदाई

मरीजों को डिस्चार्ज करते समय गोपाल नारायण विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. प्र. एमएल वर्मा, नारायण मेडिकल कॉलेजएवं अस्पताल, जमुहार के चिकित्सा अधीक्षक डॉ. प्रभात कुमार, कॉलेज के सचिव गोविंद नारायण सिंह के अलावा संबंधित चिकित्सक, नर्सेज, वार्ड बॉय सभी मौजूद हुए. सभी ने डिस्चार्ज हुए मरीजों को ताली बजाकर विदा किया. वहीं सभी के उत्तम स्वास्थ्य की कामना की.

क्या कहते हैं कॉलेज के प्रबंध निदेशक त्रिविक्रम नारायण सिंह

नारायण मेडिकल कॉलेज जमुहार के प्रबंध निदेशक त्रिविक्रम नारायण सिंह का कहना है कि उन्हें अपने अस्पताल की टीम पर पूरा विश्वास था कि वह एक वर्ल्ड क्लास की चिकित्सीय सुविधा मरीजों को देंगे. यही कारण है कि बहुत कम समय में कोरोना के 6 मरीजों को ठीक कर लिया गया. उन्होंने बताया कि डिस्चार्ज किए 6 मरीजों का पिछला दो रिपोर्ट नेगेटिव आया है. इसके बाद सरकार की गाइडलाइन के अनुसार सभी औपचारिकताएं पूरी करने के उपरांत ही मरीजों को डिस्चार्ज किया गया है.

ये भी पढ़ें: शराब के नशे में पशुपालन निदेशक के ड्राइवर ने दो को कुचला, दोनों की हालत गंभीर

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज