लाइव टीवी

लूट के दौरान ट्रक ड्राइवर और हेल्पर को मारी गोली, एक की मौत दूसरा गंभीर
Rohtas News in Hindi

Ajeet Kumar | News18 Bihar
Updated: February 5, 2020, 4:32 PM IST
लूट के दौरान ट्रक ड्राइवर और हेल्पर को मारी गोली, एक की मौत दूसरा गंभीर
उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ जिला के रौनापार थाना का रहने वाला ट्रक ड्राइवर विद्यासागर तथा उसका खलासी सुनील यादव सोन नदी से बालू लोड करने डिहरी जा रहा था

मृतक सुनील यादव तथा घायल विद्यासागर दोनों आपस में चचेरे भाई हैं. मृतक सुनील आजमगढ़ के रौनापार थाना के आराजी नव बरार का निवासी था.

  • Share this:
सासाराम. बिहार के रोहतास जिला में अपराधियों ने हत्या की घटना को अंजाम दिया है. मामला बिक्रमगंज का है जहां मैंधरा के पास एक ट्रक लूट के दौरान खलासी की गोली मारकर हत्या कर दी गई जबकि ड्राइवर गंभीर रूप से घायल हो गया. घायल को इलाज के लिए बिक्रमगंज के एक निजी क्लिनिक में भर्ती कराया गया है. सबसे बड़ी बात यह है कि घायल और मृतक दोनों चचेरे भाई हैं. मृतक सुनील की शादी इसी महीने की 26 फरवरी को होनी थी.

चलते ट्रक में चढ़कर अपराधियों ने मार दी गोली

बताया जाता है कि उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ जिला के रौनापार थाना का रहने वाला ट्रक ड्राइवर विद्यासागर और उसका खलासी सुनील यादव सोन नदी से बालू लोड करने डिहरी जा रहा था. इसी बीच चलती ट्रक में अपराधी चढ़ गए और ट्रक के केबिन में घुसकर मारपीट करने लगे. लूटपाट का विरोध करने पर ट्रक के खलासी सुनील यादव की गोली मारकर हत्या कर दी जबकि चालक विद्यासागर को भी 6 गोलियां मारी.

आजमगढ़ से पहुंचा परिवार

मृतक सुनील यादव तथा घायल विद्यासागर दोनों आपस में चचेरे भाई हैं. इस वारदात के बाद पूरे इलाके में सनसनी फैल गई है. पुलिस ने सुनील यादव के शव को पोस्टमार्टम के लिए सासाराम के सदर अस्पताल लाया है. परिजन भी आजमगढ़ से सासाराम पहुंच गए हैं. मृतक सुनील आजमगढ़ के रौनापार थाना के आराजी नव बरार का निवासी था. मृतक के चाचा रामजी यादव ने बताया कि घायल और मृतक यानी ड्राइवर और खलासी चचेरे भाई हैं.

26 फरवरी को मृतक सुनील यादव की होनी थी शादी

15 दिन बाद 19 फरवरी को सुनील का तिलक था जबकि 26 फरवरी को इसकी शादी होनी थी लेकिन उससे पहले ही अपराधियों ने सुनील यादव को मौत की नींद सुला दी वहीं घायल विद्यासागर सीताराम यादव का पुत्र है उसे 6 गोलियां मारी गई है घायल विद्यासागर को बिक्रमगंज के करुणा अस्पताल नामक एक निजी क्लिनिक में भर्ती कराया गया है बताया जाता है कि एक महीना पहले सुनील यादव और विद्या सागर दोनों ट्रक लेकर निकले थे.क्या कर रही है पुलिस

वारदात की सूचना मिलते ही बिक्रमगंज के एसडीपीओ राजकुमार दल बल के साथ छापामारी में लग गए हैं. आसपास के थानों को भी अलर्ट किया गया है तथा अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए अभियान चलाया गया है. एसपी सत्यवीर सिंह खुद इस वारदात की मानिटरिंग कर रहे हैं.

ये भी पढ़ें- श्रीनगर में CRPF पर हुए आतंकी हमले में भोजपुर का जवान शहीद

ये भी पढ़ें- मुजफ्फरपुर इंसेफेलाइटिस मामले में बड़ा खुलासा, लीची नहीं है बच्चों की मौत का कारण

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रोहतास से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 5, 2020, 4:26 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर