रोहतास में ताबड़तोड़ फायरिंग, सिक्योरिटी कंपनी के दो गार्ड को लगी गोली
Rohtas News in Hindi

रोहतास में ताबड़तोड़ फायरिंग, सिक्योरिटी कंपनी के दो गार्ड को लगी गोली
रोहतास में गोलीबारी में जख्मी गार्ड

Firing In Rohtas: बिहार के रोहतास (Rohtas) में हुई फायरिंग की घटना में जख्मी हुए दोनों गार्ड्स (Security Guards) की हालत स्थिर है. पुलिस फिलहाल पूरे मामले की जांच कर रही है.

  • Share this:
रोहतास. बिहार के रोहतास जिला के अकोढ़ीगोला में अपराधियों ने ताबड़तोड़ फायरिंग (Firing) कर दो लोगों को जख्मी कर दिया. अपराधियों ने निजी सिक्योरिटी कंपनी (Security Guards) के दो गार्ड को गोली मार दी. घायल ब्रजेश सिंह तथा विनय कुमार सिंह को इलाज के लिए अकोढ़ीगोला के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र (PHC) में भर्ती कराया गया है. ब्रजेश सिंह के पैर में गोली लगी है, जबकि विनय के कंधे में गोली लगी है. बताया जाता है कि अकोढीगोला में एक निजी सिक्योरिटी कंपनी का कार्यालय हैं. उसी कार्यालय के पास कुछ सिक्योरिटी गार्ड अपना वेतन लेने के लिए खड़े थे, इसी दौरान बाइक सवार नकाबपोश हथियारबंद अपराधी आए तथा ताबड़तोड़ फायरिंग करने लगे. फायरिंग होते ही लोग इधर-उधर भागने लगे. इस फायरिंग में दो सिक्योरिटी गार्ड को गोली लग गई. दोनों की स्थिति सामान्य है.

क्या कहते हैं घायल

इस गोलीबारी में घायल ब्रजेश सिंह एवं विनय कुमार सिंह ने बताया कि नकाबपोश बाइक सवार अपराधियों ने ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी. वो लोग कुछ समझ नहीं पाए. आनन-फानन में बेतरतीब इधर-उधर भागने लगे इसी भगदड़ में उन लोगों को गोली लग गई. दहशत के मारे वो लोग बेहोश हो गए. स्थानीय लोगों ने अस्पताल ले जाकर उन दोनों को भर्ती कराया. अपराधी किस मकसद से आए थे तथा अंधाधुंध फायरिंग के पीछे उनका क्या इरादा था? कुछ भी स्पष्ट नहीं हो सका है.



हालत सामान्य
इस संबंध में सासाराम के सिविल सर्जन डॉ. सुधीर कुमार ने बताया कि दोनों घायलों की स्थिति सामान्य है. अकोढ़ीगोला के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र से दोनों को बेहतर इलाज के लिए रेफर कर दिया गया है. दोनों संभवत: अनुमंडलीय अस्पताल डेहरी भेजे गए हैं. चुकी दोनों घायलों को गोली हाथ तथा पैर में लगी है. जिससे खतरा कम है. फिर भी चिकित्सकों द्वारा पूरी तरह से एहतियात बरती गयी है.

इलाके में हड़कंप

इस वारदात के बाद पूरे इलाके में हड़कंप फैल गया. सूचना मिलते ही अकोढीगोला थाना पुलिस मौके पर पहुंची तथा छानबीन शुरू कर दी है. अब तक किसी के भी गिरफ्तारी की सूचना नहीं है. पुलिस उन तमाम बिंदुओं पर जांच कर रही है कि आखिर किस परिस्थिति में अपराधियों ने इस तरह से ताबड़तोड़ फायरिंग की है. जिस तरह से भीड़-भाड़ वाले इलाके में फायरिंग कर अपराधी निकल भागे. यह प्रशासनिक चौकशी पर भी सवाल खड़े करती है. अकोढ़ीगोला ग्रामीण भीड़भाड़ वाला बाजार है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज