Lockdown: रोहतास में किसान को घर से बाहर बुलाया और सीने में उतार दी गोली, मौत

रोहतास​ जिले के नासरीगंज थाने में किसान गजेंद्र सिंह की हत्या कर दी गई

रोहतास में हत्याओं (Murder) का सिलसिला रुकने का नाम नहीं ले रहा है. यह ताजा मामला जिले के नासरीगंज थाना के सूखहरा डिहरी की है.

  • Share this:
रोहतास. लॉक डाउन के दौरान भी रोहतास (Rohtas) में हत्याओं का सिलसिला (Murder) रुकने का नाम नहीं ले रहा है. यह ताजा मामला जिले के नासरीगंज थाना के सूखहरा डिहरी की है. यहां एक किसान की गोली मारकर हत्या कर दी गई. यह बताया जा रहा है कि एक बाइक पर सवार तीन लोग किसान गजेंद्र सिंह (Gajendra Singh) के दरवाजे पर पहुंचे और उन्हें आवाज देकर बुलाया. गजेंद्र सिंह दरवाजे से बाहर आए और थोड़ी देर तक अपराधियों से बात करते रहे. इसके बाद अपराधियों ने उनके सीने में गोली उतार दी. उनकी मौके पर ही मौत हो गई.

आपसी रंजिश का मामला

मृतक के भतीजा डब्लू कुमार ने बताया कि अपराधी संभवत: मृतक के जान पहचान के ही थे. यह वजह है कि चाचा उनसे बातचीत कर रहे थे. इस वारदात के पीछे कहीं न कहीं आपसी रंजिश की भी संभावना हो सकती है. डब्लू ने बताया कि अपराधियों ने आपसी रंजिश के चलते गोली मार दी. परिजनों का कहना है कि हत्यारे गजेंद्र सिंह के परिचित थे. वे अपराधियों की आवाज सुनते ही घर से बाहर निकल आए और उनसे बातचीत करने लगे थे. हमलोगों को ऐसा लग रहा था कि बाइक पर आए तीनों व्यक्ति से पहले से परिचित थे.

क्या कहती है पुलिस

नासरीगंज थाने की पुलिस ने गजेंद्र सिंह के शव को कब्जे में लेकर सासाराम सदर अस्पताल में उसका पोस्टमार्टम करवाया. लॉक डाउन में किसान की हत्या से इलाके में सनसनी फैल गई है. पुलिस इस मामले की छानबीन में जुट गई है. पुलिस अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए जगह—जगह दबिश दे रही है. बिक्रमगंज के एसडीपीओ राजकुमार ने बताया कि पुलिस घटनाक्रम के आधार पर अपराधियों के पहचान की कोशिश कर रही है और जल्द ही अपराधी पुलिस के गिरफ्त में होंगे.

लॉक डाउन में भी बढ़े हैं अपराधियों के मनोबल

लॉक डाउन में भी रोहतास में हत्याओं का दौर जारी है. इंद्रपुरी के चकन्हा में जहां राजद कार्यकर्ता पप्पू यादव की गोली मारकर हत्या कर दी गई. वही 3 दिन पहले दिनारा के जोगिया गांव में 4 साल के बच्चे की जघन्य हत्या को अंजाम दिया गया. इसके अलावे तीन मई को ही नौहट्टा में एक 18 वर्षीय युवक की भी हत्या कर दी गई थी.

ये भी पढ़ें: बिहार में नहीं होगा कोई ग्रीन जोन, सिर्फ रेड और ऑरेंज, जारी रहेगी सख्ती

Lockdown: रविशंकर प्रसाद ने की पटना के लॉज में रह रही लड़कियों की मदद