Kargahar Election Result Live: कांग्रेस के संतोष मिश्रा ने बाजी मारी, वशिष्ठ सिंह को 4083 वोटों से हराया

Bihar Election Result: कांग्रेस के संतोष मिश्रा ने जेडीयू के वशिष्ठ सिंह को हराया.
Bihar Election Result: कांग्रेस के संतोष मिश्रा ने जेडीयू के वशिष्ठ सिंह को हराया.

Bihar Assembly Elections: जेडीयू (JDU) ने इस बार भी युवा वशिष्ठ सिंह पर अपना भरोसा जताया था, लेकिन उन्हें यहां कांग्रेस (Congress) के संतोष मिश्रा के हाथों हार का सामना करना पड़ा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 11, 2020, 2:15 AM IST
  • Share this:
पटना. महागठबंधन का हिस्सा रही कांग्रेस करगहर सीट जीतने में सफल हुई है. पार्टी के उम्मीदवार संतोष कुमार मिश्रा ने जदयू के वशिष्ठ सिंह को 4083 मतों के अंतर से हरा दिया है. खास बात है कि पिछले चुनाव में वशिष्ठ सिंह ने 12 हजार से ज्यादा मतों से इस सीट पर जीत हासिल की थी. संतोष को कुल 59763 वोट मिले हैं. वहीं, उन्हें टक्कर देने वाले वशिष्ठ सिंह को 55680 मत प्राप्त हुए थे.

बिहार विधानसभा (Bihar Assembly Election 2020) में 209 सीट क्रमांक वाला करगहर विधानसभा क्षेत्र (Dinara Assembly Seat) रोहतास जिले में आता है, और यह सासाराम संसदीय क्षेत्र (Sasaram Lok Sabha Seat) का हिस्सा है. सामान्य वर्ग के तहत आने वाला करगहर विधानसभा सीट 2008 में परिसीमन आयोग की सिफारिश के बाद अस्तित्व में आया था. नई व्यवस्था के तहत विक्रमगंज विधानसभा क्षेत्र को खत्म कर उसकी जगह करगहर विधानसभा सीट का गठन किया गया था.

बिहार चुनाव 2020: नतीजों से जुड़ी LIVE अपडेट्स यहां देखें



करगहर विधानसभा क्षेत्र के अस्तित्व में आने के बाद अभी तक यहां हुए दो चुनावों में जनता दल युनाइटेड ने अपना परचम लहराया है. वर्ष 2010 में रामधनी सिंह और 2015 में वशिष्ठ सिंह को यहां की मतदाताओं ने जीत का आशीर्वाद दिया है. 2015 में जेडीयू के वशिष्ठ सिंह ने राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के बीरेंद्र कुमार कुशवाहा को तेरह हजार से ज्यादा वोटों से पराजित किया था. वहीं निर्दलीय आलोक सिंह ने 27,454 वोट हासिल कर इस सीट पर जीत-हार में बड़ी भूमिका तय की थी. वशिष्ठ सिंह को कुल पड़े मतों में से 32.08 प्रतिशत वोट मिले थे जबकि बीरेंद्र सिंह को 24.8 फीसदी वोट हासिल हुए थे.
2015 के विधानसभा चुनाव में इस सीट पर कुल 2,96,440 वोटर थे जिसमें 1,58,931 पुरुष और 1,37,498 महिला मतदाताओं की संख्या थी. इस सीट पर 60 फीसदी वोटिंग दर्ज की गई थी. जबकि 1,291 लोगों ने ईवीएम में नोटा का बटन दबाया था.

जेडीयू ने इस बार भी युवा वशिष्ठ सिंह पर अपना भरोसा जताया है. उन्हें यहां कांग्रेस के संतोष मिश्रा महागठबंधन के उम्मीदवार के रूप में टक्कर दे रहे हैं. वहीं एलजेपी ने यहां से राकेश कुमार सिंह को अपना प्रत्याशी बनाया है. इस बार यहां त्रिकोणीय मुकाबले में यह देखना दिलचस्प होगा कि क्या जेडीयू पिछली दो बार की तरह क्या इस बार भी जीत हासिल कर विनिंग हैट्रिक लगा पाएगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज