Rohtas Murder: कांग्रेस विधायक के भतीजे की हत्या, बाइक सवार शूटर्स ने घर में घुसकर मारी गोलियां

बिहार के रोहतास में विधायक के रिश्तेदार की हत्या

बिहार के रोहतास में विधायक के रिश्तेदार की हत्या

Murder In Rohtas: बिहार के रोहताल में हत्या की इस घटना को अंजाम देते हुए शूटर्स ने विधायक के भतीजे को चार गोलियां मारीं और आराम से चलते बने. आगामी पंचायत चुनाव में किस्मत आजमाना चाह रहे थे मृतक संजीव मिश्रा, पुलिस इस पहलू से भी कर रही जांच.

  • Share this:
रोहतास. बिहार में अपराधियों का मनोबल सातवें आसमान पर है. ताजा मामला रोहतास जिले का है जहां करगहर के कांग्रेस विधायक संतोष मिश्रा (Congress MLA Santosh Mishra) के भतीजे संजीव मिश्रा की गोली मारकर हत्या (Murder) कर दी गई. घटना के बारे में बताया जाता है कि जब संतोष अपने आवास पर थे उसी दौरान तीन बाइक पर सवार अपराधियों ने उन पर ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी. संजीव मिश्रा को चार गोलियां लगी, जिससे वो गंभीर रूप से घायल हो गए. वारदात के बाद अपराधी बाइक से फरार हो गए.

आसपास के लोग आनन-फानन में संजीव को कैमूर जिला के मोहनिया इलाज के लिए ले गए लेकिन रास्ते में ही संजीव मिश्रा ने दम तोड़ दिया. हत्या के पीछे पुरानी रंजिश बताई जाती है. पुलिस मामले की छानबीन कर रही है. घटना के बाद ग्रामीणों में काफी आक्रोश है. घटना परसथुआ ओपी क्षेत्र की है. मौके पर पुलिस कैम्प कर रही है. पुलिस ने शव को अपने कब्जे में ले लिया है. बता दें कि मृतक संजीव मिश्रा करगहर के कांग्रेस विधायक संतोष मिश्रा के रिश्ते में भतीजे लगते थे.

करगहर से विधायक हैं संतोष मिश्रा



मृतक संजीव मिश्रा करगहर के विधायक संतोष मिश्रा के भतीजा थे. उनकी हत्या से इलाके में दहशत फैल गई है. संजीव मिश्रा चंद्रिका मिश्रा के पुत्र थे. स्थानीय लोगों ने बताया कि घटना के पीछे आपसी रंजिश हो सकती है. फिलहाल पुलिस पूरे मामले की छानबीन कर रही है. बता दें कि पूर्व मंत्री स्व. गिरीश नारायण मिश्रा के पुत्र करगहर के विधायक संतोष मिश्रा हैं. पिछले विधानसभा चुनाव में भी संजीव अपने चाचा के लिए बढ़-चढ़कर चुनाव प्रचार किया था जिसमें संतोष मिश्रा को सफलता भी मिली और वे करगहर के विधायक बने.

पंचायत चुनाव में आजमाना चाहते थे किस्मत



बताया जाता है कि आगामी पंचायत चुनाव में संजीव मिश्रा किस्मत आजमाना चाह रहे थे. इसकी भी इलाके में चर्चा है. मृतक के भाई परसथुआ के गिरीश नारायण मिश्रा कॉलेज के सचिव मंदीप मिश्रा हैं. उन्होंने बताया कि उनके परिवार से उस तरह की कोई रंजिश किसी की नहीं है. हत्या का क्या कारण है यह पुलिस ही बता सकती है. फिलहाल इलाके में सनसनी है.

पुलिस कर रही कैंप





घटनास्थल पर डीएसपी विनोद कुमार रावत के नेतृत्व में पुलिस कैंप कर रहे हैं तथा अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी भी की जा रही है. वहीं परिजनों से भी जानकारी इकट्ठा की जा रही है. पूरे घटनाक्रम पर रोहतास एसपी आशीष भारती खुद नज़र रख रहे हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज