डॉक्टर की एक गलती और सर्जरी के आठ महीने बाद तक महिला के पेट में रहा तौलिया

आठ महीना पूर्व सासाराम के प्राणडिहरा गांव की रहने वाली एक महिला का सासाराम के ही एक चिकित्सक के यहां बच्चेदानी का ऑपरेशन हुआ था. उस दौरान लापरवाही से पेट में एक तौलिया छोड़ दिया गया.

News18 Bihar
Updated: July 28, 2019, 10:25 AM IST
डॉक्टर की एक गलती और सर्जरी के आठ महीने बाद तक महिला के पेट में रहा तौलिया
सासाराम में इलाजरत महिला मरीज
News18 Bihar
Updated: July 28, 2019, 10:25 AM IST
डॉक्टर को धरती का भगवान कहा जाता है और उनसे उम्मीद की जाती है कि भगवान गलतियां नहीं करते हैं लेकिन बिहार के सासाराम में चिकित्सक की बड़ी लापरवाही से एक मरीज की जान जाते-जाते बची. इस घटना में ऑपरेशन के दौरान डॉक्टर द्वारा पेट में 'तौलिया' छोड़ दिया जाने का सनसनीखेज मामला सामने आया है.

पूरे आठ महीने पेट में ही 'तौलिया' रहने के बाद फिर से दूसरे डॉक्टर ने इसका ऑपरेशन कर पेट से तौलिया निकाला. बताया जाता है कि आठ महीना पूर्व सासाराम के प्राणडिहरा गांव की रहने वाली एक महिला का सासाराम के ही एक चिकित्सक के यहां बच्चेदानी का ऑपरेशन हुआ था. उस दौरान लापरवाही से पेट में एक तौलिया छोड़ दिया गया.

ऑपरेशन कर महिला के पेट से तोलिया निकालने वाले सर्जन का कहना है कि ऑपरेशन के दौरान टेट्रा नामक एक 'मेडिकेटेड तौलिआ' की उपयोग होता है, जिसे ऑपरेशन के दौरान उपयोग किया जाता है जिसे बाद में सावधानीपूर्वक निकाल लिया जाता है लेकिन आठ महीना पहले ऑपरेशन करने वाले निजी क्लिनिक के डॉक्टर ने लापरवाही बरती और 'टेट्रा तोलिया' पेट में ही छोड़ दिया.

आठ महीने से मरीज परेशान थी तथा कई डॉक्टरों से दिखाने के बाद स्पष्ट हुआ कि पेट में कुछ अप्रत्याशित वस्तु है. सासाराम के प्रख्यात सर्जन डॉ. उपेंद्र राय ने फिर से ऑपरेशन कर मरीज के पेट से सड़े-गले तौलिया को निकाला. पिछले 8 महीने से पेट में कचरा रहने के कारण आंत के कई हिस्से सड़ गए थे जिसे ऑपरेशन से ठीक किया जा सका है. फिलहाल मरीज की स्थिति चिंता से बाहर है लेकिन परेशानी कम होने में अभी भी समय लगेगा.

रिपोर्ट- अजीत कुमार

ये भी पढ़ें- साक्षी मिश्रा की राह पर चली यह लड़की, वीडियो वायरल

ये भी पढ़ें- संप्रदा सिंह: सेल्समैन से करियर की शुरुआत फिर बना डाली 26 हजार करोड़ की दवा कंपनी
First published: July 28, 2019, 10:14 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...