Home /News /bihar /

Bihar: काली कमाई का किंग निकला भू-अर्जन पदाधिकारी, छापेमारी में लाखों कैश, गहने और करोड़ों की मिली संपत्ति

Bihar: काली कमाई का किंग निकला भू-अर्जन पदाधिकारी, छापेमारी में लाखों कैश, गहने और करोड़ों की मिली संपत्ति

आरोपी भू-अर्जन पदाधिकारी राजेश कुमार गुप्ता के पटना स्थित एक ठिकाने से बरामद कैश और संपत्ति को जब्त कर उसकी गिनती करती हुई विजिलेंस की टीम

आरोपी भू-अर्जन पदाधिकारी राजेश कुमार गुप्ता के पटना स्थित एक ठिकाने से बरामद कैश और संपत्ति को जब्त कर उसकी गिनती करती हुई विजिलेंस की टीम

Bihar News: निगरानी विभाग की छापेमारी में सासाराम के भू-अर्जन पदाधिकारी और प्रभारी निगम आयुक्त राजेश कुमार गुप्ता के पटना के आनंदपुरी इलाके में स्थित एक अपार्टमेंट के फ्लैट से लगभग 16 लाख रुपए नकद, सोने के पांच बिस्कुट समेत 40 लाख के आभूषण, और रांची में अपार्टमेंट के फ्लैट के कागजात, भाई के नाम पर पूर्णिया में चार बीघा से अधिक जमीन के कागजात, कई बैंक पासबुक और भारी संपत्ति का पता चला है

अधिक पढ़ें ...

सासाराम/पटना. बिहार में भ्रष्ट अफसरों के खिलाफ निगरानी विभाग की कार्रवाई लगातार जारी है. इसी कड़ी में शनिवार को रोहतास जिले के सासाराम (Sasaram) के भू-अर्जन पदाधिकारी और प्रभारी निगम आयुक्त राजेश कुमार गुप्ता के ठिकानों पर छापेमारी (Vigilance Department Raid) की गई. पटना (Patna) के आनंदपुरी इलाके में स्थित सिटी एनक्लेव अपार्टमेंट में उनके फ्लैट नंबर 506 में लगभग सोलह लाख रुपए नकद, सोने के पांच बिस्कुट समेत 40 लाख के आभूषण. साथ ही झारखंड की राजधानी रांची (Ranchi) में अपार्टमेंट के फ्लैट के कागजात, भाई के नाम पर पूर्णिया में चार बीघा से अधिक जमीन के कागजात, कई बैंक पासबुक और भारी संपत्ति का पता चला है.

इसके अलावा, पटना के ही नागेश्वर कॉलोनी में भी राजेश गुप्ता ने एक अपार्टमेंट में फ्लैट रख ले रखा है जिसे फिलहाल उन्होंने किराए पर दे रखा है. छापेमारी के दौरान इस फ्लैट से शराब की खाली बोतल मिली है जिसके बाद निगरानी टीम ने संबंधित बुद्धा कॉलोनी थाना को बुलाकर अलग से मामले की छानबीन करने को कहा है. राजेश गुप्ता के फ्लैट में रिश्वत के जो 16 लाख रुपए मिले हैं उसमें 10-10 रुपये के नोट भी मिले हैं जो लपेट कर रखे गए थे. यानी राजेश गुप्ता ने घूस की राशि लेने में न तो मर्यादा का ख्याल रखा और ना ही नैतिकता की सीमा का. उन्हें 500 रुपये से लेकर 10 रुपये तक भी रिश्वत लेने में गुरेज नहीं था.

निगरानी विभाग के अधिकारियों ने न्यूज़ 18 को यह जानकारी दी कि राजेश गुप्ता और उनकी पत्नी के नाम पर कई बैंक पासबुक भी मिले हैं जिनका आकलन किया जा रहा है. बिहार में आर्थिक अपराध इकाई (EOW) हो या स्पेशल बिजनेस यूनिट या विजिलेंस तीनों एजेंसियों ने भ्रष्ट अफसरों और उनके पदों पर तैनात लोगों के खिलाफ जिस तरीके से भ्रष्टाचार को लेकर कार्रवाई शुरू की है उससे हड़कंप मचा हुआ है. वर्ष 2005 में फिर से सत्ता में आने के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भ्रष्टाचार को लेकर जीरो टॉलरेंस की नीति अख्तियार की थी. इसमें अब तक कितने ही अफसर भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ चुके हैं.

Tags: Bihar News in hindi, Corruption, Crime News, PATNA NEWS, Raid

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर