Mahishi Assembly Seat: अब्दुल गफूर के निधन के बाद JDU करेगी इस सीट पर कब्जे की कोशिश

RJD के गढ़ में इस बार आ सकता है चौंकाने वाला रुझान
RJD के गढ़ में इस बार आ सकता है चौंकाने वाला रुझान

Mahishi Assembly Seat: आवागमन के मामले में महिषी क्षेत्र ने 5 वर्षों के अंदर एक बड़ा विकास देखा है. कोसी नदी में 2 किमी लंबा पुल बना. दो तटबंधों के बीच आवागमन शुरू होने से हजारों लोगों को राहत मिली, लेकिन बुनियादी जरूरत शिक्षा, स्वास्थ्य और बिजली का मुद्दा इसबार के चुनाव में छाया रहेगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 24, 2020, 2:24 PM IST
  • Share this:
सहरसा. महिषी विधानसभा क्षेत्र (Mahishi Vidhansabha Seat) में इस बार भी विकास का ही मुद्दा छाया रहेगा. हालांकि 2020 के विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly 2020) में राजद (RJD) के कद्दावर नेता अब्दुल गफूर नजर नहीं आएंगे. इसी साल की उनकी लंबी बीमारी की वजह से निधन हो गया. इस सीट से वे पांच बार विधायक रहे. आरजेडी की इस सीट पर जदयू ने पानी निगाहें टिका रखी है. लिहाजा इस बाद अब्दुल गफूर की गैरमौजूदगी में वह महिषी सीट पर कब्ज़ा करना चाहती है.

ये हैं मुद्दे

आवागमन के मामले में महिषी क्षेत्र ने 5 वर्षों के अंदर एक बड़ा विकास देखा है. कोसी नदी में 2 किमी लंबा पुल बना. दो तटबंधों के बीच आवागमन शुरू होने से हजारों लोगों को राहत मिली, लेकिन बुनियादी जरूरत शिक्षा, स्वास्थ्य और बिजली का मुद्दा इसबार के चुनाव में छाया रहेगा. दो तटबंधों की बीच बसी अधिकांश आबादी के लिए जिला मुख्यालय पहुंचना कठिन है.



पिछले पांच विधानसभा में कौन-कौन रहे विधायक
2010   अब्दुल गफूर  राजद
2005 (अक्टूबर)      गुंजेश्वर साह  जदयू
2005 (फरवरी)  सुरेंद्र यादव   निर्दलीय
2000  अब्दुल गफूर  राजद
1995  अब्दुल गफूर  जनता दल
1990  अब्दुल  गफूर  जनता दल

कुल मतदाता- 266112
पुरुष मतदाता- 137166
महिला मतदाता- 128944
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज