Home /News /bihar /

सरकारी अनाज की कालाबाजारी, सैंकड़ों बोरे गेंहू और चावल बरामद

सरकारी अनाज की कालाबाजारी, सैंकड़ों बोरे गेंहू और चावल बरामद

सहरसा के सदर थाना के झपरा टोला में गुप्त सूचना के आधार पर पुलिस ने कालाबाजारी के सैकड़ों बोरे गेंहू और चावल बरामद किया। पुलिस को यह सफलता उस समय मिली जब ट्रक से सरकारी अनाज उतारकर एक निजी गोदाम में रखा जा रहा था। इस गोदाम में सरकारी अनाज को दूर से बोरे में भरकर खुले बाजार में खपाया जा रहा था। गरीबों के मुंह का निवाला छिनकर उसकी कालाबाजारी कर वर्षों से धंधेबाज मालामाल होते रहे हैं।

सहरसा के सदर थाना के झपरा टोला में गुप्त सूचना के आधार पर पुलिस ने कालाबाजारी के सैकड़ों बोरे गेंहू और चावल बरामद किया। पुलिस को यह सफलता उस समय मिली जब ट्रक से सरकारी अनाज उतारकर एक निजी गोदाम में रखा जा रहा था। इस गोदाम में सरकारी अनाज को दूर से बोरे में भरकर खुले बाजार में खपाया जा रहा था। गरीबों के मुंह का निवाला छिनकर उसकी कालाबाजारी कर वर्षों से धंधेबाज मालामाल होते रहे हैं।

सहरसा के सदर थाना के झपरा टोला में गुप्त सूचना के आधार पर पुलिस ने कालाबाजारी के सैकड़ों बोरे गेंहू और चावल बरामद किया। पुलिस को यह सफलता उस समय मिली जब ट्रक से सरकारी अनाज उतारकर एक निजी गोदाम में रखा जा रहा था। इस गोदाम में सरकारी अनाज को दूर से बोरे में भरकर खुले बाजार में खपाया जा रहा था। गरीबों के मुंह का निवाला छिनकर उसकी कालाबाजारी कर वर्षों से धंधेबाज मालामाल होते रहे हैं।

अधिक पढ़ें ...
सहरसा के सदर थाना के झपरा टोला में गुप्त सूचना के आधार पर पुलिस ने कालाबाजारी के सैकड़ों बोरे गेंहू और चावल बरामद किया। पुलिस को यह सफलता उस समय मिली जब ट्रक से सरकारी अनाज उतारकर एक निजी गोदाम में रखा जा रहा था। इस गोदाम में सरकारी अनाज को दूर से बोरे में भरकर खुले बाजार में खपाया जा रहा था। गरीबों के मुंह का निवाला छिनकर उसकी कालाबाजारी कर वर्षों से धंधेबाज मालामाल होते रहे हैं।

सहरसा के सदर थाना के झपरा टोला में स्थित इस निजी गोदाम में कथित तौर पर सरकारी अनाज को यहां लाकर उसकी रिपैकिंग की जाती है फिर उसे खुले बाजार में बेच दिया जाता है। पुलिस ने यहां से 480 बोरे गेंहू और 239 बोरे चावल को बरामद किया है।

सदर एसडीपीओ प्रेम सागर के नेतृत्व में यह छापेमारी की गयी। मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस अधीक्षक भी मौके पर पहुंचे और पूरे मामले की छानबीन की। गोदाम मालिक मो.कौसर और नौ मजदूरों को पुलिस ने मौके से गिरफ्तार कर लिया। वहीं मंगलवार की देर रात तक छापेमारी चलती रही।

पुलिस के अनुसार मोहम्मद कैसर कालाबाजारी के खेल का सरगना होने के साथ इस गोदाम का मालिक भी है। हालांकि उसका कहना है कि उसके गोदाम में सरकारी अनाज कैसे आया उसे पता नहीं हैं।

इस इलाके में गरीबों के मुंह से निवाले का सौदा होता रहा है। इससे सहज ही अंदाजा लगाया जा सकता है कि गरीबों के लिए सरकार द्वारा चलायी जा रही कल्याणकारी योजनाओं का उन्हे नही मिल रहा है और बिचौलिए मालामाल हो रहे हैं।

आप hindi.news18.com की खबरें पढ़ने के लिए हमें फेसबुक और टि्वटर पर फॉलो कर सकते हैं.

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर