Home /News /bihar /

सहरसा : सीएम की समीक्षा यात्रा रद्द होने से ग्रामीणों में आक्रोश

सहरसा : सीएम की समीक्षा यात्रा रद्द होने से ग्रामीणों में आक्रोश

फाइल फोटो

फाइल फोटो

नीतीश कुमार के संभावित दौरे को लेकर सहरसा जिले के सत्तरकटैया प्रखण्ड के पुरीख पंचायत को ओडीएफ के लिए चयन नहीं होने से ग्रामीणों में खासी नाराजगी देखी जा रही है.

नीतीश कुमार के संभावित दौरे को लेकर सहरसा जिले के सत्तरकटैया प्रखण्ड के पुरीख पंचायत को ओडीएफ के लिए चयन नहीं होने से ग्रामीणों में खासी नाराजगी देखी जा रही है. ग्रामीणों का कहना है कि इससे पूर्व 2009 में मुख्यमंत्री विकास यात्रा के दौरान पुरीख गांव आए थे, जिसमें सड़क, हाई स्कूल और उप-स्वास्थ्य केंद्र को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बनाने की घोषणा की गई थी.

ग्रामीणों का आरोप है कि नीतीश कुमार के विकास यात्रा अब तक धरातल पर नहीं दिख रहा है. उनका कहना है कि इस बार भी मुख्यमंत्री के सहरसा आगमन के संभावित दौरे को लेकर पहले पुरीख पंचायत का चुनाव किया गया था, जिसे आनन फानन में प्रशासन द्वारा फेरबदल कर किसी दूसरे पंचायत में तय कर दिया गया.

प्रशासन के इस फैसले के बाद ग्रामीणों में नाराजगी देखी जा रही है. ग्रामीणों का कहना है कि अगर मुख्यमंत्री गांव का दौरा करते तो गांव का विकास होता, लेकिन लोगों का कहना है कि प्रशासन अपनी नाकामियों को छुपाने के लिए मुख्यमंत्री के संभावित कार्यक्रम में फेर बदल किया गया है.

गौरतलब है कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार इन दिनों बिहार के विभिन्न हिस्सों मे विकास कार्यों की समीक्षा यात्रा कर रहे हैं. इस यात्रा के दौरान सीएम नीतीश उन जगहों पर जा रहे हैं, जहां वह 2008 के विकास यात्रा के दौरान गए थे.

Tags: Bihar News

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर