बिहार: आइसोलेशन सेंटर से बेडशीट के सहारे फरार हुआ कोरोना पॉजिटिव कांट्रैक्ट किलर

बिहार के समस्तीपुर में आइसोलेशन सेंटर में लटकती बेडशीट जिसके सहारे अपराधी फरार हुआ

बिहार के समस्तीपुर में आइसोलेशन सेंटर में लटकती बेडशीट जिसके सहारे अपराधी फरार हुआ

Samastipur News: बिहार के समस्तीपुर स्थित आइसोलेशन सेंटर से फरार हुए मोहम्मद चांद को पुलिस ने काफी मशक्कत के बाद गिरफ्तार किया था. फरार होने के बाद पुलिस गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है.

  • Share this:
समस्तीपुर. बड़ी खबर बिहार के समस्तीपुर से है जहां रोसड़ा अनुमंडल क्षेत्र के आइसोलेशन सेंटर (Corona Isolation Center) से कुख्यात अपराधी सुपारी किलर मो.चाँद फरार हो गया. उसके फरार होने के बाद पूरे पुलिस महकमे में खलबली मच गयी है. कुख्यात अपराधी मो. चांद (Criminal Mohammad Chand) को न्यायालय में पेशी से पूर्व कराए गए मेडिकल जांच के दौरान कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद रोसड़ा में आइसोलेशन सेंटर में पुलिस अभिरक्षा में रखा गया था.

मो.चांद को 28 अप्रैल को मथुरापुर ओपी पुलिस ने हथियार के साथ गिरफ्तार किया था. पुलिस अभिरक्षा से फरार हुआ कुख्यात सुपारी किलर मोहम्मद चांद आइसोलेशन सेंटर की खिड़की से बेडशीट बांधकर बाहर निकला और फरार हो गया. घटना के संदर्भ में ड्यूटी पर तैनात होमगार्ड जवान सुदिन प्रसाद यादव ने बताया कि उन लोगों को दूसरे मामले में पुलिस द्वारा पकड़े गए कोरोना पॉजिटिव अपराधियों से जानकारी मिली की खिड़की के रास्ते एक शख्स फरार हो गया जिसके बाद घटना की जानकारी वरीय पुलिस पदाधिकारी को दी गई.

कुख्यात सुपारी किलर मो. चांद के फरार होने के इस वारदात पर कोई भी पुलिस के वरीय पदाधिकारी कुछ भी बोलने से परहेज कर रहे हैं. पुलिस ने फरार अपराधी की गिरफ्तारी के लिए उसके संभावित पर छापेमारी शुरू कर दी है. समस्तीपुर पुलिस 28 अप्रैल को गुप्त सुचना के आधार पर गठित S.I.T टीम एंव थानाध्यक्ष मथुरापुर द्वारा मथुरापुर घाट पर चेकिंग लगाकर सुपारी किलर मो. चांद को लोडेड हथियार के साथ गिरफ्तार किया था.

नगर थाना क्षेत्र के बंगाली टोला निवासी मो. चांद कई हत्या एवं आर्म्स एक्ट के काण्डों में फरार चल रहा था जिसे पुलिस ने काफी मशक्कत के बाद गिरफ्तार किया था. 9 जुलाई 2020 में मनमोहन झा हत्या कांड सहित कई कांडो में उसने अपनी संलिप्ता स्वीकार की थी. उसने पूछताछ के दौरान पुलिस को बताया था कि सोनवर्षा चौक के पास मनमोहन झा की करीब 10 गोली मारकर हत्या की गई थी, इसके अलावे डेढ़ वर्ष पूर्व मोहनपुर निवासी गौरव एंव सौरभ मोहन का हत्या करने का सुपारी 5 लाख रू मिला था, जिसमे सौरभ मोहन के चालक का हत्या DPS पब्लिक स्कूल मोहनपुर को पास की थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज