बिहार: हथियारबंद अपराधियों ने घर में घुसकर चाचा-भतीजा पर बरसाई गोलियां, हालत नाजुक

समस्तीपुर का हलई ओपी जिस इलाके में फायरिंग की घटना हुई है

समस्तीपुर का हलई ओपी जिस इलाके में फायरिंग की घटना हुई है

Samastipur News: बिहार के समस्तीपुर में हुई फायरिंग की इस घटना से इलाके के लोग दहशत में हैं. जख्मी नितिन कुमार के पेट और सीने में चार गोली लगी है वहीं मुकुल कुमार के पीठ और पेट में तीन गोली लगी है.

  • Share this:

समस्तीपुर. बिहार के समस्तीपुर में एक बार फिर से अपराधियों का कहर बरपा है. जिले के पटोरी अनुमंडल अंतर्गत हलइ ओपी क्षेत्र में बाइक सवार बेखौफ अपराधियों ने अपने घर के दरवाजे पर बैठे दो लोगों के ऊपर अंधाधुंध फायरिंग कर उन्हें गंभीर रूप से जख्मी कर दिया गया. गोलीबारी की यह वारदात हलाइ ओपी क्षेत्र के सारंगपुर पश्चिमी पंचायत अंतर्गत तिसवारा गांव की है, जहां बुघवार की देर रात दो बाइक पर सवार पांच की संख्या में हथियारबंद अपराधियों ने इस घटना को अंजाम दिया.

अपराधियों ने गोली मारकर चाचा-भतीजा को गंभीर रूप से जख्मी कर दिया. जख्मी की पहचान तिसवारा गांव के ही वार्ड 04 निवासी सुधीर कुमार ठाकुर के पुत्र 30 वर्षीय नितिन रंजन और उनके चाचा 50 वर्षीय मुकुल ठाकुर के रूप में हुई है. लोग जब तक कुछ समझ पाते अपराधी वारदात को अंजाम देकर मौके से निकल चुके थे. आनन-फानन में परिजनों और स्थानीय ग्रामीणों के सहयोग से दोनों जख्मी को सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां प्राथमिक उपचार के बाद बेहतर इलाज के लिए पटना रेफर कर दिया गया.

जानकारी के अनुसार बुधवार की शाम नितिन अपने दरवाजे पर बैठे थे, इसी दौरान दो बाइक पर सवार पांच की संख्या में आए बदमाशों ने अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी. जब फायरिंग की आवाज सुनकर नितिन के चाचा मुकुल उसे बचाने के लिए घर निकले तो बदमाशों ने उसे भी फायरिंग कर जख्मी कर दिया. घटना को अंजाम देकर सभी बदमाश हथियार लहराते हुए भाग निकले. घटना के बाद स्थानीय ग्रामीणों के सहयोग से जख्मी को सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां प्राथमिक उपचार के बाद पीएमसीएच रेफर कर दिया. जख्मी नितिन कुमार के पेट और सीने में चार गोली लगी है वहीं मुकुल कुमार के पीठ और पेट में तीन गोली लगी है.

गोलीबारी की इस वारदात के संदर्भ में मिली जानकारी के मुताबिक घटना को अंजाम देने वालों में गांव के दो लोग भी शामिल थे. परिजनों और ग्रामीणों का बताना है कि तीन दिन पूर्व गांव में ही लड़का-लड़की के मामले को लेकर चल रहे विवाद को निपटाने के लिए पंचायत हुई थी. परिजनों को आशंका है कि इसी विवाद को लेकर फायरिंग की गई है. इस घटना के बाद स्थानीय ग्रामीणों और परिजन की सूचना पर पुलिस पूरे मामले की जांच में जुट गई है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज