लाइव टीवी

जीवन और मौत के बीच जूझ रही है मासूम ‘अंशिका’, क्या मदद के लिए आगे आएगा समाज !

News18 Bihar
Updated: December 15, 2018, 4:54 PM IST
जीवन और मौत के बीच जूझ रही है मासूम ‘अंशिका’, क्या मदद के लिए आगे आएगा समाज !
जिन्दगी और मौत के बीच जूझ रही है अशिका

मासूम ‘अंशिका’ को देखने से आपको ऐसा कुछ प्रतीत नहीं होगा कि ये किसी असाध्य रोग से ग्रसित है. बच्ची को ‘थैलिसीमिया’ है और खून की एक-एक बूंद उसके लिए महत्वपूर्ण है. डॉक्टर बताते हैं कि 14 वर्ष तक की उम्र पूरी होने तक इसके लिए खून कमी नहीं होनी चाहिए.

  • Share this:
एक ऐसी बच्ची जो दिखने में तो आम बच्चों की तरह ही है, लेकिन उसके लिए खून का हर कतरा अनमोल है. अगर उसे खून नहीं मिले तो वह जी नहीं सकती. यह उसके माता-पिता के लिए चिंता का सबब है. समस्तीपुर की ‘अंशिका’ एक ऐसे असाध्य रोग से जूझ रही है जो जानलेवा है. माता-पिता के पास इतने पैसे नहीं हैं जिससे उसका उचित इलाज करवा सके.

दलसिंहसराय के लोकनाथपुर गंज के रहनेवाले सोनी कुमारी और विमल कुमार की पुत्री ‘अंशिका’ पिछले छह वर्ष से हर पल जिन्दगी और मौत के बीच जूझ रही है. लेकिन इस मासूम को देखने से आपको ऐसा कुछ प्रतीत नहीं होगा कि ये किसी असाध्य रोग से ग्रसित है. ‘अंशिका’ को ‘थैलिसीमिया’ है और खून की एक-एक बूंद उसके लिए महत्वपूर्ण है. डॉक्टर बताते हैं कि 14 वर्ष तक की उम्र पूरी होने तक इसके लिए खून कमी नहीं होनी चाहिए.

ये भी पढ़ें- बंगला एलॉटमेंट के लिए CM नीतीश से तेजप्रताप की गुहार, मिलने का मांगा वक्त

आपको बता दें कि उसे जीवित रहने के लिए O+ ब्लड की जरूरत हर महीने पड़ती है. जन्म से ही इस रोग से ग्रसित बच्ची के माता-पिता पिछले छह वर्ष से इस बीमारी का इलाज कराते आ रहे हैं. ‘अंशिका’ के माता पिता ने बताया कि फिलहाल इसका इलाज लखनऊ के संजय गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान में चल रहा है.  लेकिन इस इलाज में काफी खर्च है. उनकी इतनी हैसियत नहीं है कि वह इलाज जारी रख सकें.

ये भी पढ़ें- नवादा रेप केस: RJD से निलंबित MLA राजबल्लभ यादव समेत 6 दोषी करार, 21 को सजा का ऐलान

अब वे स्थानीय स्तर पर लोगों से गुहार कर O+ ब्लड की व्यवस्था कर अपनी बेटी को खून उपलब्ध करवा रहे हैं. लेकिन जैसे-जैसे बच्चे की उम्र बढ़ रही है उसके माता-पिता की चिंता और बढ़ती जा रही है. क्योंकि 14 साल की उम्र में एक ऑपरेशन भी किया जाएगा जिसमें काफी खर्च आएंगे.

News18 के माध्यम से ‘अंशिका’ की आवाज सरकार और समाज तक पहुंचाने की कोशिश की जा रही है. क्योंकि ‘अंशिका’ भी आम बच्चों की तरह जिंदगी जीना चाहती है. उसे भी आम बच्चों की तरह खेलना पसंद है..... NEWS18  भी अंशिका के मदद के लिए लोगों से आगे आने की अपील करता है.  ताकि अंशिका अपनी जिंदगी आगे स्वस्थ होकर जी सके.रिपोर्ट- मुकेश कुमार

ये भी पढ़ें-  बंगला एलॉटमेंट के लिए CM नीतीश से तेजप्रताप की गुहार, मिलने का मांगा वक्त

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए समस्तीपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 15, 2018, 4:49 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर