रामचंद्र पासवान: कुछ ऐसा रहा उनका सियासी सफर

चार बार लोकसभा सांसद रहे रामचंद्र पासवान लोक जनशक्ति पार्टी के नेता और सांसद होने के साथ दलित सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष भी थे.

News18 Bihar
Updated: July 21, 2019, 2:45 PM IST
रामचंद्र पासवान: कुछ ऐसा रहा उनका सियासी सफर
रामचंद्र पासवान
News18 Bihar
Updated: July 21, 2019, 2:45 PM IST
केंद्र सरकार में कैबिनेट मंत्री और लोक जनशक्ति पार्टी के नेता रामविलास पासवान के भाई और समस्तीपुर लोकसभा क्षेत्र से सांसद रामचंद्र पासवान का सोमवार (21 जुलाई) को निधन हो गया. सांसद रामचंद्र पासवान दिल्‍ली के राममनोहर लोहिया अस्‍पताल में भर्ती थे. उन्हें इसी साल 12 जुलाई को दिल का दौरा पड़ा था.

चार बार लोकसभा सांसद रहे रामचंद्र पासवान लोक जनशक्ति पार्टी के नेता और सांसद होने के साथ दलित सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष भी थे. साल 2019 में भी उन्होंने लोकसभा के सदस्य के रूप में शपथ ली थी. रामचंद्र पासवान का जन्म 1 जनवरी 1962 को खगड़िया जिले के शहरबन्नी गांव में एक दलित परिवार में हुआ था. पत्नी सुनैना देवी से तीन संतान हैं जिसमें दो बेटे और एक बेटी है.

रामचंद्र पासवान ने खगड़िया को-ऑपरेटिव बैंक के अध्यक्ष के चुनाव में 1998 में जीत हासिल करने के बाद अपनी राजनीतिक पारी की शुरुआत की थी. परिसीमन से पूर्व समस्तीपुर जिला के रोसड़ा (सुरक्षित क्षेत्र) से साल 1999 में सांसद चुने गए. फिर साल 2004 में दोबारा जनता का विश्वास जीतने में कामयाब रहे. साल 2009 में हुए लोकसभा चुनाव में उन्हें हार का सामना करना पड़ा जिसके बाद पुनः 2014 के लोकसभा चुनाव में समस्तीपुर लोकसभा सीट से जीत हासिल की. 2019 के संसदीय चुनाव में समस्तीपुर (सुरक्षित) लोकसभा सीट से पुनः निर्वाचित हुए.
(इनपुट- मुकेश कुमार) 

ये भी पढ़ें

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए समस्तीपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 21, 2019, 2:22 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...