01 जून को वंदे भारत मिशन के तहत बिहार लौटेंगे बांग्लादेश में फंसे मेडिकल स्टूडेंट
Samastipur News in Hindi

01 जून को वंदे भारत मिशन के तहत बिहार लौटेंगे बांग्लादेश में फंसे मेडिकल स्टूडेंट
बिहार लौटेंगे बांग्लादेश में फंसे मेडिकल स्टूडेंट

कोरोना संकट (Corona Crises) के बीच बांग्लादेश (Bangladesh) में मेडिकल की पढ़ाई कर रहे बिहार के छात्र 01 जून को बंदे भारत मिशन के तहत एयर इंडिया के फ्लाइट से स्वदेश लौटेंगे.

  • Share this:
समस्तीपुर. कोरोना संकट (Corona Crises) के बीच बांग्लादेश में मेडिकल की पढ़ाई (Medical Student in Bangladesh) कर रहे बिहार के छात्र 01 जून को वंदे भारत मिशन (Vande Bharat Mission) के तहत एयर इंडिया की फ्लाइट से स्वदेश लौटेंगे. 1 जून 2020 को 12:00 बजे बांग्लादेश के डीएसई ढाका हवाईअड्डे से एयर इंडिया की फ्लाइट संख्या एआई 1231 (AIR INDIA AI-1231) से 35 से अधिक मेडिकल छात्रों को लेकर रवाना होगी, जो 12:30 पर पश्चिम बंगाल के कोलकाता हवाईअड्डे पर पहुंचेगी. सभी मेडिकल छात्रों को हवाईअड्डे से बस द्वारा उन्हें गृह प्रदेश भेजा जाएगा.

अधिकांश छात्र बिहार और झारखंड के हैं

स्वदेश वापसी के संदर्भ में जानकारी देते हुए नेहरू नगर पाटलिपुत्र कॉलोनी पटना की रहने वाली एक मेडिकल छात्रा प्रियंका वत्स ने बताया कि वंदे भारत मिशन के तहत एयर इंडिया की फ्लाइट से स्वदेश लौटने वाले छात्र-छात्राओं में अधिकांश छात्र बिहार और झारखंड से हैं. इनमें कुछ छात्र पश्चिम बंगाल के भी हैं. अब बांग्लादेश में फंसे छात्रों को फ्लाइट का इंतजार है जिससे वह स्वदेश वापस लौट सकेंगे.



केंद्र और राज्य सरकार से लगाई थी गुहार



बांग्लादेश में कोरोना संकट के बीच मेडिकल की पढ़ाई कर रहे भारतीय छात्र छात्राओं ने न्यूज़ 18 के माध्यम से केंद्र और राज्य सरकार से मदद की गुहार लगाई थी. इस खबर को न्यूज़ 18 के माध्यम से प्रमुखता से प्रसारित भी किया गया था जिसके बाद बांग्लादेश में फंसे मेडिकल छात्रों की स्वदेश वापसी की प्रक्रिया शुरू हुई है.

इस जिले के इतने छात्र कर रहे हैं वतन वापसी

बांग्लादेश में फंसे मेडिकल के छात्र जो स्वदेश लौट रहे हैं, उनमें बेगूसराय के चार , पटना के तीन, चंपारण के तीन, छपरा, मुंगेर, गोपालगंज, सीवान, अररिया, सीतामढ़ी, औरंगाबाद और जमुई के एक-एक छात्र शामिल है.

वंदे भारत मिशन के तहत इन देशों से इतने आए

वंदे भारत मिशन के तहत विदेशों में फंसे भारतीयों को लाने के लिए एयर इंडिया और इसकी सहायक कंपनी एयर इंडिया एक्सप्रेस की मदद ली जा रही है.वंदे भारत मिशन का पहला चरण सात मई से 14 मई तक चला जिसमें 64 फ्लाइट की मदद से 12 देशों में फंसे 14,800 फंसे हुए भारतीयों को वापस स्वदेश लाया गया है. इस मिशन का दूसरा चरण 16 मई से 22 मई तक चलाया गया और इसके तहत 30,000 लोगों को भारत लाया गया. इसमें 149 फ्लाइट की सहायता से 31 देशों से भारतीय स्वदेश वापस आए.

ये भी पढ़ें: बिहार पहुंच सकता है टिड्डियों का दल, ये रही महत्वपूर्ण जानकारियां

Lockdown में ही शुरू हो जाएगी बिहार पुलिस की ट्रेनिंग!

बिहार: घर में हुए धमाके में मां और नवजात की मौत, छह घर धवस्त

गोपालगंज में राजद और भाकपा माले विधायक पर FIR दर्ज
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading