शर्मनाक: अपहरण की आरोपी महिला को पहले मारा-पीटा फिर सिर के बाल काट दिए

भीड़ द्वारा कानून को हाथ में लेने का मामला समस्‍तीपुर में सामने आया है. बच्‍ची के अपहरण से आक्रोशित ग्रामीण बेकाबू हो गए.

News18 Bihar
Updated: July 7, 2019, 11:08 AM IST
शर्मनाक: अपहरण की आरोपी महिला को पहले मारा-पीटा फिर सिर के बाल काट दिए
समस्तीपुर में भीड़ का शिकार हुई आरोपी महिला ने बताया कि पुलिस के द्वारा पूछताछ के बाद अस्पताल में इलाज करा कर छोड़ दिया गया .
News18 Bihar
Updated: July 7, 2019, 11:08 AM IST
बिहार में एक बार फिर बेलगाम भीड़ का 'इंसाफ' देखने को मिला है. मामला समस्तीपुर का है, जहां ग्रामीणों ने पहले तो अपहरण की आरोपी महिला के हाथ-पैर बांधकर बुरी तरह पीटा फिर उसके सिर के बाल काट दिए. ग्रामीणों द्वारा घटना की सूचना दिए जाने के बाद भी पुलिस मौके पर नहीं पहुंची.

पूरा मामला जिले के मुफस्सिल थाना के बिशनपुर गांव का है. जानकारी के मुताबिक, 19 जून की रात सातवीं क्लास की एक छात्रा लापता गई, जिसके बाद परिजनों ने थाने में मामला दर्ज करवाया. इय मसमले में पड़ोस में रहने वाली एक महिला को शक के आधार पर नामजद आरोपी बनाया गया. इसके बाद पुलिस ने 21 जून को प्राथमिकी दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी, लेकिन अब तक लड़की का कोई सुराग नहीं मिल सका है.

थाने का लगा रहे थे चक्कर

बच्ची की बरामदगी नहीं होने के कारण परिजन लगातार थाने से लेकर एसपी कार्यालय का चक्कर लगा रहे हैं, लेकिन पुलिस कार्रवाई के बदले लगातार कथित तौर पर परिजन के साथ दुर्व्यवहार कर रही थी. आरोपी महिला के अचानक गांव पहुंचने के बाद गांव के लोग आक्रोशित हो गए और लोगों ने उसकी जमकर पिटाई कर डाली और उसके सिर के बाल काट दिए.

जान कर भी अनजान बनी रही पुलिस

इस मामले की सूचना लोगों ने थाने को भी दी, लेकिन घटना के 6 घंटे बाद भी पुलिस नहीं पहुंची. पुलिस के नहीं पहुंचने से लोगों में गुस्‍सा और बढ़ गया. लोगों का कहना है कि पुलिस ने इस मामले में पीड़ित परिवार और मीडिया को भी गुमराह किया है. पुलिस का कहना है कि आरोपी महिला को जेल भेज दिया गया है.

डीएसपी बोले
Loading...

लापता बच्ची के मामले में दो दिन पूर्व ही डीएसपी ने बताया था कि पीड़ित के द्वारा शिकायत के आधार पर पुलिस ने आरोपी महिला को जेल भेज दिया है. उन्‍होंने मोबाइल नंबर का सीडीआर (कॉल डिटेल डेटा) खंगाल रही है और जल्द ही बच्ची को बरामद कर लिया जाएगा. इस मामले में थानाध्यक्ष के द्वारा कार्रवाई की गलत जानकारी दिए जाने को लेकर डीएसपी ने जांच के बाद दोषी पुलिस अधिकारी पर कार्रवाई करने का भरोसा दिया है.

रिपोर्ट- मुकेश कुमार

ये भी पढ़ें- पेट्रोल की बजाय गाड़ियों में भरा जा रहा था पानी, खुलासा होते ही फ्यूल स्टेशन छोड़ भागे कर्मी

ये भी पढ़ें- कार्यकर्ताओं से बोले तेजस्वी- मत घबराओ, अच्छे दिन आएंगे

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए समस्तीपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 7, 2019, 10:53 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...